ताज़ा खबर
 

ब्लैकबोर्ड पर उत्तर लिख बच्चों को नकल करा रहे टीचर, यूपी डिप्टी सीएम के इलाके की घटना

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के गृह जनपद कौशांबी में कक्षा एक से पांच तक की परीक्षाओं में कथित तौर पर घोर अनुशासनहीनता देखी गई, शिक्षक ही ब्लैक बोर्ड पर प्रश्नों के उत्तर लिखकर बच्चों को नकल कराते नजर आए।

फोटो समाचार प्लस के ट्वीट से लिया गया है।

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के गृह जनपद कौशांबी में कक्षा एक से पांच तक की परीक्षाओं में कथित तौर पर घोर अनुशासनहीनता देखी गई, शिक्षक ही ब्लैक बोर्ड पर प्रश्नों के उत्तर लिखकर बच्चों को नकल कराते नजर आए। स्थानीय मीडिया के अनुसार बच्चे बेखौफ होकर नकल कर रहे हैं। रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि बच्चे किताबें सामने रखकर भी नकल करते नजर आ रहे हैं। बेसिक शिक्षा परिषद के अधिकारियों का कहना है कि मामले में दोषी पाए जाने पर शिक्षकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। उपमुख्यमंत्री के इलाके में इस तरह नकल होने की खबर से हड़कंप मचा है। उत्तर प्रदेश में शुक्रवार (16 मार्च) से परिषदीय विद्यालयों में परीक्षाएं शुरू हुई हैं। कक्षा एक से लेकर आठ तक की परीक्षाएं चल रही हैं। बता दें कि उत्तर प्रदेश में 10वीं और 12वीं परीक्षाओं में इस बार नकल में खासी कमी दर्ज की गई थी।

योगी सरकार की कड़ाई के बाद कई छात्रों ने तो नकल न कर पाने के भय से परीक्षाएं ही छोड़ दी थीं। बच्चों की शिक्षा और परीक्षाओं के लिए पिछले दिनों यूपी की योगी और केंद्र की मोदी सरकार में खासी दिलचस्पी देखी गई। 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं में नकल न कर पाने के डर से परीक्षा छोड़ने वाले छात्रों को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि वह परीक्षाओं को और आसान बनाएंगे। उन्होंने बच्चों के पाठ्यक्रम को और सरल बनाने की बात कही थी। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम ‘परीक्षा पे चर्चा’ में शिरकत कर छात्रों को संबोधित किया था।

पीएम मोदी ने कार्यक्रम में बच्चों से अपने छात्र जीवन से जुड़ी कई रोचक कहानियां साझा की थीं और बच्चों को पढ़ाई के लिए प्रेरित किया था। प्रधानमंत्री मोदी ने बच्चों को बताया था कि किस प्रकार से छात्र परीक्षा के तनाव से बच सकते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बच्चों के लिए एक किताब भी लिख चुके हैं। इस किताब का नाम ‘एग्जाम वॉरियर्स’ है। सूबे में और केंद्र में बीजेपी की सरकार शिक्षा को लेकर कई बार चिंता व्यक्त क चुकी हैं। लेकिन खुद उपमुख्यमंत्री के गृह जनपद में बच्चों का बेखौफ होकर इस तरह खुल्लम खुल्ला नकल करना और शिक्षकों का इस तरह उनका साथ देना ज्यादा चिंता का विषय बनता दिख रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App