‘मौलाना’ कहे जाने पर खुश होते थे मुलायम सिंह यादव – बोले यूपी डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, कहा – वह खुद चाहते हैं कि उन्हें कहा जाए ‘अब्बाजान’

यूपी डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने एंकर राहुल कंवल से एक इंटरव्यू के दौरान यूपी विधानसभा चुनाव से लेकर योगी आदित्यनाथ द्वारा मुलायम सिंह यादव पर दिए गए बयान को लेकर बातचीत की है।

Uttar Pradesh, Yogi Adityanath
'मौलाना' कहे जाने पर खुश होते थे मुलायम – बोले UP डिप्टी CM (फोटो सोर्स – पीटीआई)

यूपी डिप्टी सीएम से एक न्यूज़ चैनल के इंटरव्यू के दौरान योगी आदित्यनाथ द्वारा मुलायम सिंह को ‘अब्बा जान’ कहे जाने वाले बयान पर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि वह मौलाना कहे जाने पर बहुत खुश होते थे। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वह खुद चाहते हैं कि उन्हें ‘अब्बाजान’ कहा जाए।

इंडिया टुडे के कार्यक्रम ‘जब बी मेट’ में इंटरव्यू के दौरान यूपी डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य से एंकर राहुल कंवल ने यूपी इलेक्शन को लेकर बीजेपी की रणनीति पर कई सवाल पूछे। उनसे एंकर ने पूछा कि इस बार का जो विधानसभा चुनाव होने वाला है। आपके हिसाब से वह किस मुद्दे पर लड़ा जाएगा? आपको इस बात का कॉन्फिडेंस है कि आपकी सरकार ने जो अपने कार्यकाल में किया है उस पर चुनाव लड़ेंगे या फिर से हिंदू मुस्लिम करेंगे?

इस सवाल के जवाब में डिप्टी सीएम ने कहा कि बीजेपी का लक्ष्य केवल एक ही है। हम चुनाव को विकास के मुद्दे पर लड़ेंगे। उन्होंने दावा किया कि हम किसान और गरीब के मुद्दे पर चुनाव लड़ेंगे क्योंकि हमारी सरकार ने इनके लिए बहुत काम किया हुआ है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जिक्र करते हुए कहा कि हुआ वह जब गुजरात के मुख्यमंत्री से देश के प्रधानमंत्री बने तो वह विकास के मुद्दे पर ही बने थे।

इसके साथ ही उन्होंने विपक्ष पर आरोप लगाया कि वह इन मुद्दों पर चुनाव नहीं लड़ना चाहते हैं। इन सब से भागने की कोशिश कर रहे हैं। क्योंकि उन्होंने अपने कार्यकाल में कोई काम नहीं किया है और हमारी सरकार ने इतना शानदार काम किया है। हमसे जनता सवाल करती अगर हमने काम ना किया होता। यूपी की जनता योगी सरकार से पूरी तरह संतुष्ट है।

इनके इस जवाब पर एंकर राहुल कंवल ने पूछा कि लेकिन अगर पिछले कुछ चुनावी सभाओं को देखें तो ‘अब्बा जान’ ‘चाचा जान’ और ‘अम्मी जान’ चल रहा है? इस सवाल के जवाब में डिप्टी सीएम ने मुलायम सिंह यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि जब मैं RSS था तो मुझे याद है कि 30 अक्टूबर 1990 में जब कोई उन्हें ‘मौलाना मुलायम’ कहता था तो वह बेहद खुश होते थे। वह खुद चाहते हैं कि लोग उन्हें ‘अब्बा जान’ कहें।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट