ताज़ा खबर
 

संजय दत्‍त से मिलकर ट्रोल हुए यूपी सीएम आदित्‍यनाथ, लोगों ने याद दिलाया आपराधिक इतिहास

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त से मुलाकात कर ट्रोल्स का शिकार हो रहे हैं। लोग सीएम योगी को संजय दत्त का आपराधिक इतिहास तक याद दिला रहे हैं। संजय दत्त ने शुक्रवार (8 जून) को लखनऊ स्थित मुख्यमंत्री के आवास पर उनसे मुलाकात की थी।

तस्वीर को सीएम योगी आदित्यनाथ के ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त से मुलाकात कर ट्रोल्स का शिकार हो रहे हैं। लोग सीएम योगी को संजय दत्त का आपराधिक इतिहास तक याद दिला रहे हैं। संजय दत्त ने शुक्रवार (8 जून) को लखनऊ स्थित मुख्यमंत्री के आवास पर उनसे मुलाकात की थी। इस मुलाकात का आधार भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का ‘संपर्क फॉर समर्थन’ अभियान था। इस अभियान के जरिये बीजेपी मोदी सरकार की उपलब्धियों को घर-घर तक पहुंचाने के प्रयास में लगी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इसी अभियान के तहत संजय दत्त से मुलाकात की तस्वीर के साथ बात कही गई। आधीरात के वक्त 12:12 बजे किए गए ट्वीट में लिखा गया, ”आज लखनऊ स्थित सरकारी आवास पर “#SamparkforSamarthan” के तहत फिल्म अभिनेता श्री संजय दत्त जी से भेंट की।” सीएम योगी के इस ट्वीट के बाद यूजर्स का पारा चढ़ गया और वे उन्हें ट्रोल करने लगे। एक यूजर ने लिखा, “श्रीमान सम्मान के साथ कहूंगा- मुझे गंभीरता से लगता है कि आपको ऐसे लोगों के लिए मुख्यमंत्री कार्यालय की मर्यादा नहीं गिरानी चाहिए जिन्होंने राष्ट्र के खिलाफ अपराधों में समय बिताया और सेलेब्रिटी होते हुए भी ऐसी गतिविधियों संग तस्वीरें खिंचाई।”

नीतिका पांडेय नाम की यूजर ने लिखा, ”आपको अब आम जनता से समर्थन की आवश्यकता शायद नहीं रह गयी है इसलिए शिक्षामित्रों की समस्या की कोई सुनवाई नहीं हो रही है लेकिन क्या सिर्फ इन सेलिब्रिटी के वोट लेकर ही आपकी 2019 की सरकार बन जाएगी।अपने संकल्पपत्र में किए गए वादों को पूरा कीजिए।”

एक यूजर ने सरकार के तमाम वादों को याद दिलाते हुए खिंचाई की, ”कालाधन आया नहीं, अच्छे दिन आए नहीं, विकास पैदा हुआ नहीं, मां गंगा साफ हुई नहीं, स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू हुई नहीं, दो करोड़ रोजगार सालाना दिए नहीं, भ्रष्टाचारी जेल गये नहीं, बेटियां बची नहीं, पाकिस्तान काबू आया नहीं, अब चुनावी साल तो आ ही गया सो कोई षड्यंत्र तो होना लाजिमी है।” दुर्गेश पांडेय ने लिखा, ”इतनी बड़ी आबादी में आपको ऐसे लोगों के समर्थन की जरूरत महसूस हो रही है दुःखद! इससे अच्छा आप एक आम आदमी से मिलते तो अच्छा होता।” इसके अलावा भी सीएम योगी को ट्रोल करती कई प्रतिक्रियाएं देखी गईं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App