ताज़ा खबर
 

UP फूलपुर, गोरखपुर उपचुनाव नतीजे 2018: नरेश अग्रवाल के BJP में शामिल होने से श्रीराम जी नाराज- पार्टी के खराब प्रदर्शन पर लोग ऐसे ले रहे मजे

UP Phulpur, Gorakhpur Lok Sabha Bypoll Election Result 2018 (उप्र फूलपुर, गोरखपुर लोक सभा उपचुनाव नतीजे 2018): सोशल साइट पर भाजपा को अलग-अलग मुद्दों का हवाला देकर लोग ताने कस रहे हैं। नरेश अग्रवाल को भाजपा में शामिल करने, गोरखपुर के अस्‍पताल में ऑक्‍सीजन की कमी से बच्‍चों की मौत जैसे मुद्दों के जरिए लोग वार कर रहे हैं।

राजनाथ सिंह, पीएम मोदी और अमित शाह (PTI फोटो)

यूपी में फूलपुर और गोरखपुर उपचुनावों में बीजेपी के खराब प्रदर्शन पर सोशल मीडिया पर लोग पार्टी की खूब चुटकी ले रहे। आदित्‍य नाथ के सीएम बनने के चलते खाली हुई उनकी गोरखपुर सीट पर भी लगातार सपा उम्‍मीदवार के आगे रहने पर लोग भाजपा और यूपी सरकार का खूब मजाक उड़ा रहे हैं। सोशल साइट पर भाजपा को अलग-अलग मुद्दों का हवाला देकर लोग ताने कस रहे हैं। नरेश अग्रवाल को भाजपा में शामिल करने, गोरखपुर के अस्‍पताल में ऑक्‍सीजन की कमी से बच्‍चों की मौत जैसे मुद्दों के जरिए लोग वार कर रहे हैं।

Suhail Baksh ने फेसबुक पर टिप्‍पणी की- नरेश अग्रवाल के भाजपा मे शामिल होने से श्रीराम जी नाराज !!! गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव में भाजपा को हराने पर तुले !!! जय_श्री_राम। वैसे ही Amir Khan ने लिखा- नरेश अग्रवाल बीजेपी के लिये पनौती! यू o पी o मे जनमत से और गुजरात बेल्टों से हुई धुलाई l मार्च महीना भगवा धारियों के लिये अशुभ I Akram Raza ने लिखा- गोरखपुर आज ऑक्सीजन की कमी से मारे गये सैकड़ों बच्चों को श्रद्धांजलि दे रहा है। Pramod Chaudhary ने एक अलग मुद्दा लेकर भाजपा पर निशाना साधा। उन्‍होंने कमेंट किया- उत्तर प्रदेश लोकसभा उपचुनाव : फूलपुर और गोरखपुर की जीत महागठबन्धन की जीत हुई, अगर भाजपा जीतती तो ये evm की जीत होती, वाह रे दोगली मानसिकता के लोगो धन्य हो आप। Manoj Kumar Singh #गोरखपुर में #आक्सीजन की कमी से #BJP ने तोड़ा दम। Dinesh Gaur ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लगातार विदेश दौरों पर निशाना साधा। उनहोंने लिखा- लेकिन मोदी नही दिख रहे है कही विदेश तो नही भाग गया या कही छिपकर बैढ़ गया ।

सोशल मीडिया पर लोगों की प्रतिक्रिया सोशल मीडिया पर लोगों की प्रतिक्रिया

बता दें कि फूलपुर और गोरखपुर में भाजपा के खराब चुनावी प्रदर्शन के बाद जहां सपा-बसपा खेमे में उत्‍साह है, वहीं भाजपा खेमा शांत है। पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह बुधवार को नई दिल्‍ली में भाजपा मुख्‍यालय पहुंचे तो कोई ज्‍यादा ताम-झाम नहीं था और न ही उनके चेहरे पर खुशी के भाव थे। इससे पहले जब भाजपा की जीत हुई है मुख्‍यालय पर उत्‍सव सरीखा माहौल देखा गया है। अक्‍सर जीत के मौके पर प्रधानमंत्री भी मुख्‍यालय जाकर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते रहे हैं। पर 14 मार्च को ऐसा कुछ नहीं हुआ।

सोशल मीडिया पर लोगों की प्रतिक्रिया

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App