ताज़ा खबर
 

तेज रफ्तार दिखाने के लिए पीयूष गोयल ने शेयर किया वंदे भारत का ‘फर्जी वीडियो’, हुए ट्रोल

अभिषेक जायसवाल नाम के ट्विटर यूजर ने तो यहां तक दावा किया कि शेयर किया गया वीडियो उनका है। उन्होंने कहा कि मूल वीडियो से छेड़छाड़ की गई है और इसे मूल स्पीड से दोगुना फॉरवर्ड किया गया। जायसवाल ने अपने दावे की पुष्टि के लिए एक वीडियो का लिंक भी शेयर किया है।

Author February 11, 2019 1:01 PM
सोशल मीडिया यूजर्स ने आरोप लगाया कि केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने फर्जी वीडियो शेयर किया है। (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

करीब 24 घंटे पहले केंदीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बिजली की रफ्तार से दौड़ती वंदे भारत एक्सप्रेस का एक वीडियो अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया। शेयर किए वीडियो में उन्होंने ट्रेन को प्लेन बताया। हालांकि सोशल मीडिया यूजर्स ने उनके इस दावे को खारिज कर दिया। सोशल मीडिया में कई यूजर्स ने दावा कि केंद्रीय मंत्री ने जो वीडियो शेयर किया कि वो फास्ट फॉरवर्ड है। बता दें कि रविवार (10 फरवरी, 2019) को गोयल ने वीडियो शेयर कर लिखा, ‘यह एक पक्षी है। यह एक विमान है। मेक इन इंडिया पहल के तहत बनी भारत की पहली सेमी हाई स्पीड वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को बिजली की गति से गुजरते हुए देखिए।’

वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हुआ। वीडियो भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने भी इसे शेयर किया है। मगर कई ट्विटर यूजर्स ने वीडियो संग छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। अभिषेक जायसवाल नाम के ट्विटर यूजर ने तो यहां तक दावा किया कि शेयर किया गया वीडियो उनका है। उन्होंने कहा कि मूल वीडियो से छेड़छाड़ की गई है और इसे मूल स्पीड से दोगुना फॉरवर्ड किया गया। जायसवाल ने अपने दावे की पुष्टि के लिए एक वीडियो का लिंक भी शेयर किया है।

वीडियो यहां देखें-

हालांकि कई यूजर्स ने ट्रेन 18 प्रोजेक्ट के लिए केंद्र सरकार की खूब तारीख की। मगर नकली वीडियो शेयर करने के लिए रेल मंत्री की आलोचना भी की। एक यूजर्स ने ट्वीट कर लिखा, ‘नाइस वीडियो… मगर ट्रेन को सुपर फास्ट दिखाने के लिए वीडियो फास्ट फॉरवर्ड मोड में एड किया गया है।’ एक यूजर लिखते हैं, ‘देखना.. एडीटिड वीडियो में कहीं ड्रेल ना हो जाए।’ माय भारत नाम से एक यूजर ट्वीट कर लिखते हैं, ‘क्या स्पीड है… फर्जी है।’ दिवाकर लिखते हैं, ‘हाई स्पीड ट्रेन या हाई स्पीड वीडियो?’

यहां देखें यूजर्स के कमेंट-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App