इस ट्वीट पर गौतम गंभीर को म‍िल रही खूब वाहवाही, जान‍िए क्‍या है वजह - twitterati appreciate cricketer gautam gambhir after his tweet about the good work for society - Jansatta
ताज़ा खबर
 

इस ट्वीट पर गौतम गंभीर को म‍िल रही खूब वाहवाही, जान‍िए क्‍या है वजह

अब वे अपनी संस्था एक आशा के जरिए कुछ करना चाहते है।

Author नई दिल्ली | August 1, 2017 5:49 PM
वर्ल्ड कप जीत लिया, आईपीएल जीत लिया, प्रतिद्वंदवियों को हरा दिया। अब समय दिल जीतने और भूख को हराने का।

भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव नजर आते है। अपने क्रिकेट करियर में गौतम ने कई गेंदबाजों को अपने बल्ले से छक्के मार-मारकर धोया है लेकिन अब वे अपनी संस्था एक आशा के जरिए कुछ करना चाहते है। इसके लिए गौतम ने एक शुरुआत की है कि वे अब रोज लोगों को भोजन कराएंगे जिसका वे कुछ भी शुल्क नहीं लेंगे। इसे लेकर गौतम ने तीन ट्वीट किए हैं। पहले ट्वीट में एक फोटो डाली है जिसमें निशुल्क भोजन कराने का समय और जगह के बारे में बताया गया है। इसके साथ ही गौतम ने लिखा है वर्ल्ड कप जीत लिया, आईपीएल जीत लिया, प्रतिद्वंदवियों को हरा दिया। अब समय दिल जीतने और भूख को हराने का।

इसके बाद उन्होंने लोगों को भोजन कराते हुए एक फोटो पोस्ट की जिसमें उन्होंने लिखा, दिल में सहानुभूति, हाथ में प्लैट है और लबों पर प्रार्थन कि कोई भी भूखा नहीं सोना चाहिए। इन दोनों ट्वीट के बाद गौतम ने एक वीडियो डाली और लिखा 365 दिन, 52 हफ्ते, 12 महीने, कई भूखें और एक आशा। गौतम गंभीर को इतना नेक काम करता देख लोग उनकी बहुत सराहना कर रहे है। गौतम गंभीर की तारीफ करते हुए लोग उनके ट्वीट्स पर प्रतिक्रियाएं दे रहे है।

एक यूजर ने लिखा वाह सर आज हमें एक बार फिर गर्व हो रहा है आप महान हैं। एक ने लिखा सर दिन प्रतिदिन आप सोसाएटी के लिए अच्छे कार्य करके मेरा दिल जीत रहे हैं। मैं आशा करता हूं कि गौतम गंभीर संस्थान उपलब्धियों की ऊंचाइयों तक पहुंचे। एक ने लिखा अगर भगवान सभी को आपके जैसा दिल दे तो दुनिया बहुत ही बेहतर हो जाएगी। एक ने लिखा सर आपके जज्बे को सलाम है, अच्छे काम के प्रति जुनून को देखकर आपकी प्रशंसा करता हूं और मेरी भी इच्छा है कि आपके जैसा बनूं। एक ने लिखा हम हमेशा आपके साथ खड़े हैं। हमारी भी प्रार्थना है कि कोई भूखा नहीं सोएगा।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App