कपिल मिश्रा ने बताया 'झंडू बाम का डिब्बा' तो आप विधायक सौरभ भारद्वाज बोले- निकालेंगे नहीं तुम्हें, कहके लेंगे - Twitter war between Former minister kapil mishra and AAP Leader saurabh bhardwaj - Jansatta
ताज़ा खबर
 

कपिल मिश्रा ने बताया ‘झंडू बाम का डिब्बा’ तो आप विधायक सौरभ भारद्वाज बोले- निकालेंगे नहीं तुम्हें, कहके लेंगे

कपिल मिश्रा ने लिखा 'भ्रष्ट केजरीवाल डाल-डाल तो कपिल मिश्रा पात-पात'।

Author नई दिल्ली | December 2, 2017 12:52 PM
कपिल मिश्रा (Left) और सौरभ भारद्वाज (Right)।

दिल्ली के पूर्व जल संसाधन मंत्री कपिल मिश्रा और आप विधायक सौरभ भारद्वाज के बीच ट्विटर जंग छिड़ी हुई है। इसकी शुरुआत कपिल मिश्रा के उस ट्वीट से हुई जिसमें उन्होंने अपना ट्विटर हैंडल का नाम KapilMishraAAP से KapilMishra_IND करने वाला ट्वीट किया था। कपिल के ट्वीट का जवाब देते हुए सौरभ भारद्वाज ने अपने ट्वीट हैंडल पर लिखा “अब आम आदमी पार्टी से इस्तीफा दे दो और फिर से आईएसी का फ्रेश चुनाव लड़ो।” कपिल को सौरभ का यह जवाब पसंद नहीं आया और उन्होंने सौरभ को झंडू बाम का खाली डिब्बा कह डाला।

कपिल मिश्रा ने ट्वीट किया “हेलो ‘झंडू बाम के खाली डिब्बे सौरभ भारद्वाज’ हिम्मत है तो अरविंद केजरीवाल से कहो कि मुझे पार्टी से निकाल कर दिखाए। अभी तो विधानसभा में भ्रष्ट केजरीवाल का बहुत कुछ खोलना है, अरविंद केजरीवाल और सत्येंद्र जैन को जेल भेजने तक ऐसे ही छाती पर मूंग दलूंगा।” कपिल के इस ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए सौरभ भारद्वाज ने लिखा “भैया याद है, मैंने विधानसभा में वोटिंग करवाई थी, सभी विधायक और पत्रकार तुम्हें देख रहे थे और फिर आपको इस खाली डिब्बे के इशारे में उट्ठक-बैठक लगानी पड़ी थी। निकालेंगे नहीं तुम्हें, कहके लेंगे।”

इसका जवाब देते हुए कपिल ने लिखा “हमेशा विपक्ष मांगता था सीएम, मंत्रियों का इस्तीफा लेकिन यहां पूरी सरकार मिलकर एक विधायक का इस्तीफा मांग रही है। डंके की चोट पर विधानसभा में कहूंगा केजरीवाल भ्रष्ट है और व्हिप के साथ वोट भी करुंगा। ‘भ्रष्ट केजरीवाल डाल-डाल तो कपिल मिश्रा पात-पात’।” गौरतलब है कि कपिल मिश्रा ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और मंत्री सत्येंद्र जैन पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए थे जिसके बाद कपिल को आम आदमी पार्टी से सस्पेंड कर दिया गया था।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App