ताज़ा खबर
 

ताजमहल वाले बयान पर गुस्से में ट्विटर यूजर्स, लिखा- तालिबान की राह पर हैं

सोमवार को ट्विटर पर 10,000 से ज्यादा लोगों ने ताजमहल के मुद्दे पर कमेंट किया।

भाजपा विधायक संगीत सोम। (फाइल फोटो)

आगरा में मुगल बादशाह शाहजहां द्वारा बनाया गया ताजमहल सोमवार को मीडिया और सोशल मीडिया की सुर्खिया बन गया। मेरठ के सरधना से विधायक संगीत सोम ने भारतीय संस्कृति और इतिहास पर ताजमहल को एक धब्बा बताया ये बात ट्विटर यूजर्स को पसंद नहीं आई और बड़ी भारी संख्या में ट्विटर पर इसका विरोध किया गया है। ताजमहल के खिलाफ बोले गए बीजेपी विधायक के शब्दों की तुलना कई यूजर्स ने अफगानिस्तान में भगवान बुद्ध की मूर्ती तोड़ने वाले तालिबान से भी की ।

दरअसल ये सारा मामला तब सुर्खियों में आया जब बीजेपी विधायक संगीत सोम ने कहा है, “बहुत सारे लोग इसलिए निराश थे कि ताज महल को उत्तर प्रदेश की पर्यटन पुस्तिका से हटा दिया गया। हम किस इतिहास की बात कर रहे हैं? कौन सा इतिहास? ताजमहल बनवाने वाले (शाहजहां) ने अपने पिता को जेल में डाल दिया था। वह भारत से सभी हिंदुओं को मिटा देना चाहता था। अगर ऐसे लोग हमारे इतिहास का हिस्सा हैं तो यह दुर्भाग्यपूर्ण है।” उन्होंने यह भी बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार अकबर, बाबर और औरंगजेब जैसे कलंक कथा लिखने वाले बादशाहों को भी इतिहास से निकालने की तैयारी कर रही है। इसके बाद इस सारे मसले ने तुल पकड़ लिया। सोमवार को ट्विटर पर 10,000 से ज्यादा लोगों ने ताजमहल के मुद्दे पर कमेंट किया। दूसरी ओर दक्षिणपंथी रुझान रखनेवाले ट्विटर यूजर्स ने इस मसले पर मगुलों को हिन्दू विरोधी बताने के लिए जमकर ट्विट किए। इस तरह सोमवार का पूरा दिन ट्विटर पर जंग जैसा महौल बना रहा।