ताज़ा खबर
 

विपक्ष के बंद का Twitter यूजर्स ने उड़ाया मजाक, कहा- महाराष्ट्र में दिया जनता ने जवाब

केरल, बंगाल और त्रिपुरा को छोड़कर देश के अन्य किसी राज्य में बंद का असर ना के बराबर रहा।
Author नई दिल्ली | November 29, 2016 06:58 am
ट्विटर।

केंद्र सरकार के नोटबंदी के फैसले के खिलाफ विपक्ष ने सोमवार (28 नवंबर) को धरना-प्रदर्शन किया। कम्यूनिस्ट पार्टी को छोड़कर सभी अन्य दलों ने भारत बंद से दूरी बना ली जिस कारण केरल और बंगाल और त्रिपुरा को छोड़कर देश के अन्य किसी राज्य में बंद का असर ना के बराबर रहा। वाम दलों ने 12 घंटे के बंद का आह्वान किया था, वहीं कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस सहित दूसरे विपक्षी दलों ने सिर्फ प्रदर्शन किया। कांग्रेस ने ‘जन आक्रोश दिवस’ के तौर पर देश के अलग अलग हिस्सों में प्रदर्शन किया। जदयू और बीजद ने विरोध प्रदर्शन में हिस्सा नहीं लिया। विरोधी दलों की ओर से आहूत ‘जन आक्रोश दिवस’ के तहत हुए विरोध प्रदर्शनों और बंद को भाजपा ने ‘फ्लॉप शो’ करार दिया और कहा कि लोगों ने कहा कि लोगों ने दोनों को खारिज कर दिया है कि क्योंकि उनकी ‘दागी’ पार्टियों में विश्वास नहीं है। इसके साथ ही सोमवार को जारी महाराष्ट्र लोकल बॉडी चुनाव में भी बीजेपी को बढ़ी बढ़त मिली।

तमिलनाडु में केंद्र के नोटबंदी के तरीके के खिलाफ द्रमुक के नेतृत्व में प्रदर्शन किया। इस दौरान विभिन्न विपक्षी दलों के सैकड़ों नेताओं को सोमवार (28 नवंबर) को गिरफ्तार कर लिया गया। द्रमुक के अलावा उसके सहयोगी दलों कांग्रेस, आईयूएमएल और वाम दलों के नेता और कार्यकर्ता 500 और 1000 रुपये के पुराने नोटों को अमान्य घोषित किये जाने के कारण आम लोगों को हो रही परेशानी का हवाला देते हुए सड़कों उतरे। पुलिस ने बताया कि केंद्र सरकार के कार्यालयों और राष्ट्रीयकृत बैंकों के सामने प्रदर्शन करने के अलग-अलग मामलों में द्रमुक कोषाध्यक्ष एम के स्टालिन, माकपा के राज्य सचिव जी रामाकृष्णन और भाकपा के राज्य सचिव आर मुथरसन समेत इन पार्टी के अन्य कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया। विपक्ष के इस प्रदर्शन का उम्मीद से कम असर देखने को मिला। सोशल मीडिया पर यूजर्स ने विपक्ष के इस प्रदर्शन पर जमकर चुटकी ली विपक्षी नेताओं और पार्टियों का जमकर मजाक बनाया।