ताज़ा खबर
 

कासगंज दंगा: कई लोगों को पहले से थी जानकारी? पत्रकार ने ट्वीट शेयर कर यूपी पुलिस से पूछा

उत्तर प्रदेश के कासगंज हिंसा की आंच अब धीरे-धीरे ठंडी पड़ रही है, पर माहौल में तनाव अभी भी कायम है।

कासगंज हिंसा के दौरान लोगों ने बस को जला दिया था। (PTI फोटो)

सोशल मीडिया में उत्तर प्रदेश के कासगंज में हुई सांप्रदायिक हिंसा से जुड़ा एक ट्वीट वायरल हो रहा है। वायरल हो रहे ट्वीट में अयुष शर्मा नाम के यूजर ने 20 जनवरी को जिले में दंगा होनी की आशंका व्यक्त की थी। ट्वीट में यूजर ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह और यूपी पुलिस के टैग करते हुए लिखा, ‘मेहरबानी करके यहां गौर करें सर, यह हिंदू-मुस्लिम का मामला बन सकता है।’ एक अन्य ट्वीट में आयुष ने लिखा है, ‘कासगंज में सबकुछ पहले प्लान किया गया था। मैंने पांच दिन पहले इस मामले में ट्वीट भी किया था।’ शर्मा के इस ट्वीट को एबीपी न्यूज से जुड़े पत्रकार पंकज झा ने भी शेयर किया है। उन्होंने ट्वीट्स के स्क्रीन शॉट शेयर करते हुए लिखा, ‘कासगंज में दंगा होने वाला है? क्या इस बात की जानकारी कई लोगों को थी? आयुष के ट्वीट तो इसी तरफ इशारा करते हैं।’ ट्वीट यूपी पुलिस को टैग किया गया है।

देखें ट्वीट्स-

यूजर्स की प्रतिक्रियाएं-

बता दें कि उत्तर प्रदेश के कासगंज में 26 जनवरी के दिन हिन्दू समुदाय के द्वारा तिरंगा यात्रा निकालने को लेकर हिंसा हुई थी। इस घटना में एक शख्स अभिषेक उर्फ चन्दन गुप्ता ( 20 वर्ष) की मृत्यु हो गई। घटना में नौशाद नाम का शख्स घायल हो गया जिसे स्थानीय हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। बाद में चन्दन गुप्ता की मृत्यु के मामले में भाजपा सांसद विनय कटियार ने विवादित बयान दिया था। उन्होंने न्यूज चैनल रिपब्लिक से कहा था कि युवक के हत्या में पाकिस्तानपरस्त लोगों का हाथ था। उन्होंने ही चंदन गुप्ता की हत्या की है।

हालांकि सीएनएन न्यूज-18 की टीवी पत्रकार ने सांसद से उनके आरोपों के सबूत मांगा तो उन्होंने पूर्व की बात को फिर दोहराया और कहा कि पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाना एक फैशन बनता जा रहा है। उन्होंने कहा कि जहां ‘भारत माता की जय’ बोली जाती है वहां कुछ अराजक लोग पाकिस्तान का झंडा लहरा रहे हैं। सांसद के इन बयानों पर पत्रकार ने उनसे सबूत दिखाने को कहा। इसपर वह उलझ गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App