ताज़ा खबर
 

टीवी एंकर ने वंदे मातरम गाकर मांगा देशभक्ति का सर्ट‍िफिकेट, लोगों ने दिये ये जवाब

एंकर ने कहा, ''अगर आप अपने देश की धरती को नमन नहीं कर सकते तो क्‍या पड़ोसी की धरती को नमन करेंगे?''

टीवी एंकर मीनाक्षी जोशी। (Photo: facebook/HIMC)

‘वंदे मातरम’ को लेकर सोशल मीडिया पर अलग ही बहस छिड़ी है। टीवी पर बहस के दौरान ‘वंदे मातरम’ न गाने पर भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्‍ता गोपाल कृष्‍ण अग्रवाल को ट्रोल किया गया था। संघ विचारक राकेश सिन्‍हा भी एक टीवी कार्यक्रम में वंदे मातरम गुनगुनाने से कतराते नजर आए थे। एनडीटीवी पर हुए उस कार्यक्रम में सिन्‍हा को गोल-मोल जवाब देता देख मौजूद थियेटर कलाकार आमिर रज़ा हुसैन ने वंदे मातरम गाया था। कार्यक्रम के इस हिस्‍से का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इसी कड़ी में कई पत्रकारों ने भी चुटकी ली। टीवी पत्रकार मीनाक्षी जोशी ने अपने ट्विटर अकाउंट में ‘वंदे मातरम’ गाते हुए वीडियो पोस्‍ट किया है। उन्‍होंने लिखा है कि ‘मैं तो वंदे मातरम सस्‍वर गा सकती हूं। अब आप लोग भी देश भक्ति का सर्टिफिकेट दे दीजिए।’

वीडियो में मीनाक्षी ने कहा है कि ”क्‍यों वंदे मातरम को बहस का मुद्दा बनाया गया है? मैं सस्‍वर वंदे मातरम गा सकती हूं। हो सकता है कुछ लोगों को ये देश भक्ति का सर्टिफिकेट लगे मगर ये सर्टिफिकेट देना नहीं है। ये तमाम उन लोगों को जवाब है जो ये सोचते हैं कि वंदे मातरम गाने से ही देश भक्‍त होते हैं। और जो ये सोचते हैं कि वंदे मातरम देश भक्ति के लिए कोई सर्टिफिकेट है ही नहीं। मुझे नहीं समझ में आता कि वंदे मातरम क्‍यों मुद्दा बना हुआ है। मुझे लगता है कि वंदे मातरम पर बहस करने वाले भी बेवकूफ हैं। अगर आप अपने देश की धरती को नमन नहीं कर सकते तो क्‍या पड़ोसी की धरती को नमन करेंगे?”

जोशी के ट्वीट पर एक ट्रोल अकाउंट ने जवाब दिया, ”अभी सर्टिफिकेट नही मिलेगा, अब खिचड़ी खा कर दिखाओ।” बिस्‍वजीत चौधरी ने चुटकी लेते हुए लिखा, ‘बीच में एक जगह सुर टूट गया था…लगता है आप थोड़ा कम देश भक्‍त हो।’