scorecardresearch

डिबेट में एंकर सुशांत सिन्हा ने खिलजी को बताया आतंकवादी, भड़कते हुए शो छोड़कर चले गए माजिद हैदरी

पीएफआई (PFI) के विषय पर हो रही टीवी डिबेट (TV Debate) के दौरान माजिद हैदरी (Majid Hydari) ने खिलजी का जिक्र करते हुए कहा कि वह मुगल सम्राट थे। जिस पर एंकर ने तंज कसा।

डिबेट में एंकर सुशांत सिन्हा ने खिलजी को बताया आतंकवादी, भड़कते हुए शो छोड़कर चले गए माजिद हैदरी
एनआईए की छापेमारी के विरोध में पीएफआई और एसडीपीआई के कार्यकर्ता (फोटो- पीटीआई)

केंद्र सरकार ने बुधवार यानी 28 सितंबर को पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) को 5 सालों के लिए बैन कर दिया है। PFI के साथ आठ और अन्य संगठनों पर कार्रवाई की गई है। इन तमाम विषयों पर हो रही टीवी डिबेट के दौरान एंकर सुशांत सिन्हा ने खिलजी को आतंकवादी कहा तो राजनीतिक विश्लेषक माजिद हैदरी शो छोड़कर चले गए।

खिलजी पर एंकर ने कही ऐसी बात

‘टाइम्स नाउ नवभारत’ चैनल के कार्यक्रम ‘राष्ट्रवाद’ में हो रही चर्चा के दौरान एंकर सुशांत सिन्हा खिलजी का जिक्र आने पर कहा कि वह आतंकवादी थे। जिस पर माजिद हैदरी ने भड़कते हुए कहा, ‘ आपने हमारे मुस्लिम सम्राटों का अपमान किया है, मुझसे ऐसा अपमान बर्दाश्त नहीं होता है।’ इस तरह करने तंज कसते हुए कहा कि अब खिलजी इनके लिए सम्राट बन गया है।

डिबेट छोड़कर चले गए माजिद हैदरी

माजिद हैदरी ने कहा कि वह अपने सम्राट का अपमान नहीं कर सकते हैं इसलिए डिबेट छोड़कर जा रहे हैं। एंकर ने कहा कि, ‘आप जाने से पहले मेरी एक बात सुन लीजिए। मैं खिलजी को दसियों बार बेइज्जत करता हूं, वह इस देश का आतंकवादी था। अब आप यहां से चले जाइए।’ एंकर ने आगे कहा कि मैं फिर से कह रहा हूं कि खिलजी आतंकवादी ही था। जिसे शो छोड़कर जाना है, वह चला जाए।

एंकर ने अशफाक उल्ला खान का किया जिक्र

एंकर सुशांत सिन्हा ने स्वतंत्रता सेनानी अशफाक उल्ला खान का जिक्र कर कहा कि हम उन्हें मानते हैं, वह हमारे स्वतंत्रता सेनानी थे और इस देश के लिए समर्पित थे।’ इस देश के अंदर खिलजी को इज्जत नहीं मिलेगी, अशफाक उल्ला खान जैसे स्वतंत्रता सेनानियों को देश पूरे के सम्मान के साथ याद करेगा।

PFI को सरकार ने किया बैन

आतंकी फंडिंग व अन्य गतिविधियों के चलते भारत में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया को 5 सालों के लिए प्रतिबंधित किया गया है। 2017 में भी एनआईए ने गृह मंत्रालय को पत्र लिखकर इस संगठन पर प्रतिबंध लगाने की मांग की थी। एनआईए ने हाल में ही देश के कई जगहों पर पीएफआई के ठिकानों पर छापेमारी की थी। इस दौरान करीब 230 लोगों को हिरासत में भी लिया गया था। जिसमें सबसे ज्यादा कर्नाटक में 80 और उसके बाद यूपी से 57 लोगों को पकड़ा गया था।

बीजेपी नेताओं ने दी ऐसी प्रतिक्रिया

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने पीएफआई को बैन किए जाने पर ट्वीट किया कि बाय-बाय पीएफआई। बीजेपी नेता मनोज तिवारी ने कहा, ‘पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया और उसके सहयोगियों पर 5 साल के लिए प्रतिबंध लगा दिया गया है। पीएफआई के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई करने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को बधाई।’

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 28-09-2022 at 12:19:29 pm
अपडेट