ताज़ा खबर
 

मारपीट और यौन उत्पीड़न के आरोपी को BJP ने बनाए प्रवक्ता पत्रकार ने किया ट्वीट तो पुलिस के पास पहुंचे तेजिंदर पाल सिंह बग्गा

बग्गा साल 2012 में उस वक्त चर्चा में आए थे, जब उन्होंने प्रशांत भूषण के साथ मारपीट की थी।

Author March 19, 2017 7:01 AM
एनडीटीवी के ऑफिस के बाहर प्रदर्शन करते तेजिंदर पाल सिंह बग्‍गा। (Source: Facebook/Tajinder Pal Singh Bagga)

वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण के साथ मारपीट करने के विवाद को लेकर चर्चा में आए तेजिंदर पाल सिंह को बीजेपी दिल्ली प्रदेश का प्रवक्ता बनाया गया है। तेजिंदर दिल्ली में काफी सक्रिए हैं और कई बार मीडिया की सुर्खियों में बने रहते हैं। तेजिंदर के दिल्ली प्रदेश प्रवक्ता बनने पर एक महिला पत्रकार ने ट्वीट करके इस पर विरोध जताया। लेकिन तेजिंदर को उनके विरोध का तरिका पसंद नहीं आया और उन्होंने पुलिस में उनके ट्वीट को लेकर शिकायत दर्ज करा दी। स्वाती चतुर्वेदी नाम की पत्रकार तेजिंदर के प्रवक्ता बनाए जाने का विरोध करते हुए अपने ट्विटर अकाउंट से ट्विट किया था उन्होंने ट्वीट करके लिखा कि, ” वो आदमी जिसने प्रशांत भूषण को पीटा और यौन उत्पीड़न के केस में गिरफ्तार हो चुका है बीजेपी के लिए बोलेगा। गुड जॉब।” उनके इस ट्वीट के खिलाफ तेजिंदर ने पुलिस में शिकायत करा दी है और शिकायत की कॉपी ट्विटर पर शेयर की जा रही है।

 

 

 

बग्गा साल 2012 में उस वक्त चर्चा में आए थे, जब उन्होंने प्रशांत भूषण के साथ मारपीट की थी। भूषण ने उस वक्त कश्मीर में जनमत संग्रह की वकालत का बयान दिया था। इसके लिए उन्हें तीन दिन तिहाड़ जेल में काटने पड़े थे। बग्गा पहले भी भारतीय जनता पार्टी के सदस्य रहे हैं, लेकिन उन्होंने भाजपा छोड़ दी थी। उनका कहना था कि आप किसी पार्टी का सदस्य रहते हुए राष्ट-विरोधियों से नहीं लड़ सकते। न्यूज लॉन्ड्री को इंटरव्यू देते हुए उस वक्त बग्गा ने कहा था, ‘आपको हर चीज के लिए पार्टी नेतृत्व से अनुमति लेनी होती है। अगर मुझे हर चीज के लिए पार्टी से मंजूरी लेनी पड़े तो मैं राष्ट्र विरोधियों के खिलाफ नहीं लड़ सकता। इसलिए मैंने पार्टी छोड़ दी।’ इसके बाद उन्होंने भगत सिंह क्रांति सेना बनाई थी और धमकी दी थी कि अगर कोई कोई राष्ट्र विरोधी बात करेगा तो वह ‘खून की होली’ का सामना करेगा।