scorecardresearch

नीतीश कुमार पर तेजस्वी यादव बोले- हम चाचा भतीजा ने लड़ाई भी की है लेकिन इस पर ध्यान नहीं देना, यूजर्स ने किया ऐसे कमेंट्स

तेजस्वी यादव से पूछा गया कि क्या नीतीश कुमार प्रधानमंत्री पद के दावेदार होंगे। इस सवाल पर भी उन्होंने प्रतिक्रिया दी।

नीतीश कुमार पर तेजस्वी यादव बोले- हम चाचा भतीजा ने लड़ाई भी की है लेकिन इस पर ध्यान नहीं देना, यूजर्स ने किया ऐसे कमेंट्स
नीतीश कुमार से मुलाकात करते तेजस्वी यादव। (Photo Source – PTI)

नीतीश कुमार ने राज्यपाल फागू चौहान को अपना इस्तीफा सौंपने के बाद बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास पर पहुंचे थे। जहां उन्होंने राजद नेता तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव से मुलाकात की। इसके बाद दोनों ने मीडिया से बातचीत भी की। इस दौरान तेजस्वी यादव ने कहा कि हमारे चाचा भतीजा के बीच लड़ाई भी हुई लेकिन ध्यान नहीं देना है। जिस पर लोगों ने कई तरह के रिएक्शन दिए।

नीतीश कुमार पर तेजस्वी यादव ने कही यह बात

तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर कहा कि 2017 में जो हुआ उसे भूल जाएं और एक नया अध्याय शुरू करें। इसके साथ उन्होंने कहा कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिला, कोई पैकेज नहीं दिया गया। नीतीश जी ने पटना यूनिवर्सिटी की भी बात की जो नहीं मानी गई। जेपी नड्डा के पुराने बयान का जिक्र करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा, ‘बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कहते हैं कि क्षेत्रीय पार्टियों को समाप्त करेंगे, यानी विपक्ष और लोकतंत्र को समाप्त करेंगे। हमारा दायित्व है संविधान को।’

बीजेपी पर बरसे तेजस्वी यादव

भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोलते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि बीजेपी का केवल एक काम है डराना, वह लालच देकर सरकार बनाना चाहती है। उन्होंने नीतीश को धन्यवाद देते हुए कहा कि आज नीतीश ने बहुत जरूरी फैसला लिया है। पांच दलों की बैठक हुई और हमें फैसला लेने की जिम्मेदारी दी गई थी। नीतीश जी ने बिहार और लोकतंत्र के हित में फैसला लिया है।

तेजस्वी यादव ने कहा – हमारे पुरखों की विरासत कोई और ले जाएगा क्या?

नीतीश और खुद को समाजवादी बताते हुए उन्होंने कहा कि लालू जी ने आडवाणी का रथ रोका था। हमारे पुरखों की विरासत कोई और ले जाएगा क्या? इसके साथ ही तेजस्वी यादव ने कहा कि हम लोग चाचा भतीजा हैं, हम लोगों ने लड़ाई भी की है और एक दूसरे पर कई तरह के आरोप भी लगाए हैं। हम लोग समाजवादी लोग हैं, हर परिवार में लड़ाई होती है। वहीं जब उनसे नीतीश कुमार के प्रधानमंत्री पद की उम्मीदवारी को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि इसका जवाब मुख्यमंत्री जी देंगे।

लोगों के रिएक्शन

अनुष्का नाम की एक ट्विटर यूजर कमेंट करती है कि पुरखों की विरासत? लोकतंत्र में किसकी विरासत होती है, बिहार आपकी विरासत कैसे हो सकती है? अर्णब दत्ता नाम के एक यूजर ने कमेंट किया – लोकतंत्र का नाच। उत्कर्ष सिंह नाम के एक यूजर लिखते हैं कि एकदम से वक्त और जज्बात दोनों बदल दिए। अनुभव शुक्ला नाम के ट्विटर यूजर कमेंट करते हैं कि तेज प्रताप यादव को भी हार सौंपकर अब नीतीश कुमार को राष्ट्रीय स्तर पर आना चाहिए, मोदी जी को टक्कर देने के लिए।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.