ताज़ा खबर
 

सचिन-लता का मजाक उड़ाने वाले तन्मय भट्ट ने Uri attack पर किए ये ट्वीट्स

कॉमेडियन तन्मय भट्ट ने कश्मीर में आतंकी हमले का जिक्र करते हुए कुछ ट्वीट किए हैं। इन ट्वीट्स के जरिए तन्मय ने अपने स्कूल के दिनों की एक 'सच्ची' कहानी बताई है।

Author September 20, 2016 2:54 PM
कॉमेडियन तन्मय भट्ट पहले भी अपनी कॉमेडी और ट्वीट को लेकर चर्चा में रह चुके हैं।

कॉमेडियन तन्मय भट्ट ने कश्मीर में आतंकी हमले का जिक्र करते हुए कुछ ट्वीट किए हैं। इन ट्वीट्स के जरिए तन्मय ने अपने स्कूल के दिनों की एक ‘सच्ची’ कहानी बताई है। कहानी का सारांश यह है कि तन्मय पाकिस्तान से लड़ाई के पक्ष में नहीं हैं। साथ ही साथ उन्होंने अंग्रेजी टीवी चैनल टाइम्स नॉऊ पर भी निशाना साधा है। तन्मय ने क्या लिखा पढ़िए-

‘मैं आपको वह घटना बता रहा हूं जो मेरे साथ स्कूल में हुई थी। स्कूल में डिबेट होनी थी। मैंने भी उसमें हिस्सा लिया था। टॉपिक था, ‘क्या भारत को कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान से युद्ध करना चाहिए?’ मेरे खिलाफ एक बहुत तेज-तर्रार लड़का बोलने वाला था। मुझे इस टॉपिक के विपक्ष में बोलना था। यानी कि लड़ाई नहीं होनी चाहिए। मैंने सारी तैयारी कर ली। सभी फैक्ट्स जमा कर लिए जैसे युद्ध से आर्थिक, सामाजिक स्तर पर प्रभाव पड़ता है। बिना मतलब के लोग मरते हैं। मैं पहली बार 200 बच्चों के सामने बोला। कई बच्चे और टीचर भी मेरी बातें सुनकर सहमत हो गए कि लड़ाई नहीं होनी चाहिए। इसके बाद उस लड़के का नंबर आया जिसे लड़ाई के पक्ष में बोलना था। वह स्टेज पर आया और उसने मेरा उदाहरण देते हुए एक कहानी सुनानी शुरू कर दी। वह बोला, ‘कल PT पीरियड के दौरान मैंने अपने दोस्त तन्मय भट्ट की जेब में एक पत्थर डाला। जब मैंने पहली बार ऐसा किया तो तन्मय मुझ पर चिल्लाया। मैंने फिर दोबारा ऐसा किया। वह फिर मुझ पर चिल्लाया। मैंने 4-5 बार और ऐसा ही किया। मुझपर चिल्लाने के अलावा तन्मय ने टीचर से भी कई बार मेरी शिकायत की, लेकिन मैं फिर भी नहीं माना। लेकिन एक बार जब मैंने फिर से पत्थर तन्मय की जेब में डाला तो उसने मुझे थक्का दे दिया।’ उसको सुन रहे सब लोग हैरान रह गए। वह आगे बोला, ‘अब आप मुझे बताएं, अगर तन्मय मेरी इस छोटी सी बात के लिए मुझे मार सकता है तो हम पाकिस्तान पर हमला क्यों नहीं कर सकते ? जबकि तन्मय और मैं दोस्त हैं फिर भी तन्मय ने मेरी गलती के लिए मुझे मारा। तो दुश्मन पर हमला करने में क्या बुराई है?’ इसके बाद उसने ‘भारत माता की जय’ चिल्लाकर अपनी स्पीच खत्म कर दी। अब वहां बैठे ज्यादातर बच्चे उसके समर्थन में थे। हालांकि टीचर्स और जजों को उसकी बात पसंद नहीं आई। इसलिए मैं डिबेट जीत गया। लेकिन बच्चों को फिर भी वह लड़का ही सही लगा और वे उसी की बात से सहमत भी थे। आज मैंने उस दोस्त को मजाक-मजाक में बोला कि अगर वह अपनी यह स्टोरी टाइम्स नाऊ को सुनाएगा को फटाफट उसे जॉब मिल जाएगी।’

तन्मय भट्ट पहले भी अपनी कॉमेडी और ट्वीट को लेकर चर्चा में रह चुके हैं। तन्मय ने सचिन तेंदुलकर और लता मंगेशकर का भी मजाक उड़ाया था। उसके लिए उनकी काफी निंदा हुई थी।

देखिए तन्मय ने क्या ट्वीट किए-

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App