scorecardresearch

‘मुसलमान होना गुनाह हो गया’- दुकानदार ने देवताओं की तस्वीर वाले अखबार पर परोसा नॉनवेज, गिरफ्तारी पर भड़के फिल्ममेकर, स्वरा भास्कर ने दिया ये रिएक्शन 

देवी-देवताओं की तस्वीर छपे अख़बार पर तालिब हुसैन नॉनवेज परोसता था। शिकायत किये जाने पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।

Talib Husain II Sambhal Police II UP Police
पुलिस की गिरफ्त में तालिब हुसैन (फोटो सोर्स- स्क्रीनग्रैब/ वायरल वीडियो)

उत्तर प्रदेश में संभल में एक रेस्टोरेंट चालक को इसलिए गिरफ्तार कर लिया गया क्योंकि जिस अखबार का उपयोग वह खाना परोसने के लिए कर रहा था, उसमें देवी देवताओं की तस्वीर छपी हुई थी। किसी ने फोटो खींचकर सोशल मीडिया पर डाल दी और पुलिस से कार्रवाई की मांग की। इसके बाद संभल पुलिस ने रेस्टोरेंट मालिक को गिरफ्तार कर लिया। अभिनेत्री स्वरा भास्कर से लेकर फिल्ममेकर विनोद कापड़ी इस पर तंज कस रहे हैं।

स्वरा भास्कर ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि “ये सब सच में हो रहा है! यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना है।” फिल्ममेकर विनोद कापड़ी ने लिखा कि “मुसलमान होना इस देश में कितना बड़ा गुनाह हो चुका है!” इरफान हबीब ने लिखा कि “किस हद तक गिरेंगे ये लोग?”

अन्य प्रतिक्रियाएं: अमित मिश्र ने लिखा कि ‘वो एक कहावत थी ‘फलानी नगरी और ढिमका राजा!’ ओम थानवी ने लिखा कि ‘शिकायत करने वाला तो सांप्रदायिक रहा होगा, मगर पुलिस का विवेक कहां चला गया? अखबार क्या सामान देखकर लपेटे जाते हैं? क्या हिंदू शाकाहारी ही होते हैं?’ चंचल नाम के यूजर ने लिखा कि ‘गलती अखबार मालिकों की है, जिन्होंने अखबार में ये तस्वीर छापी हर रोज ना जाने कितनों पैरों से रौंदा जाता है, नाले-नालियों में पड़ा रहता है, जानवर खाते हैं ,और ना जाने क्या क्या होता है।’

जितेन्द्र निषाद नाम के यूजर ने लिखा कि ‘साहब आपने ये नहीं बताया कि तालिब ने कार्रवाई करने पहुंची पुलिस टीम पर चाकू से हमला भी किया था। अधूरा सच बताकर विक्टिम कार्ड खेलने की जरूरत नहीं।’ खुशबू नाम की यूजर ने लिखा कि ‘हिंदू देवताओं की तस्वीर पर मांस परोसा गया, आपके अनुसार यह भावनाओं को आहत नहीं कर रहा है? मुझे आश्चर्य है कि किसी विशिष्ट धर्म के लिए भावनाओं को आहत करने का पेटेंट कराया गया है।’

एक यूजर ने लिखा कि ‘जब उस व्यक्ति को भी पता है कि हिन्दू देवी-देवताओं की तस्वीर छपी हुई अखबार में और नॉनवेज पैकिंग करने से हिंदुओं की भी धार्मिक भावनायें आहत हो सकती हैं तो फिर ऐसा काम ही क्यों करते हैं?’ एक यूजर ने लिखा कि ‘मैं गिरफ्तारी का समर्थन नहीं करता, लेकिन मुझे समझ नहीं आता कि इस तरह की चीजों का इस्तेमाल करने से क्यों नहीं बचा जा सकता!’

बताया जा रहा है कि इस रेस्टोरेंट के आस-पास रहने वाले लोगों ने पुलिस से तालिब हुसैन की शिकायत की। पीटीआई के मुताबिक, जब एक पुलिस टीम तालिब हुसैन की चिकन की दुकान पर पहुंची तो उन्होंने कथित तौर पर पुलिस पर चाकू से हमला करने के इरादे से हमला किया। इस हमले का जिक्र FIR में भी किया गया है। 

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X