ताज़ा खबर
 
title-bar

‘पद्मावती का टिकट लेने से पहले करवा लेना अपना बीमा’, फेसबुक पर पोस्ट हुआ धमकी भरा यह संदेश

Padmavati Movie Controversy, Tickets Booking: 'पद्मावती का टिकट लेने से पहले करवा लेना अपना बीमा', फेसबुक पर पोस्ट हुआ धमकी भरा यह संदेश

संजय लीला भंसाली की फिल्म में पद्मावती की भूमिका दीपिका पादुकोण ने निभायी है। (फाइल फोटो)

संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मवती को लेकर उठा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। राजस्थान, गुजरात, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में इस फिल्म को लेकर सबसे ज्यादा आक्रोश देखने को मिल रहा है। जहां गुरुवार को यूपी के राजपूत नेता ने भंसाली का सिर कलम करने पर 5 करोड़ रुपए के इनाम की घोषणा की वहीं मध्य प्रदेश के एक राजपूत ग्रुप ने पद्मावती देखने जाने वाले दर्शकों को अपना बीमा करवा लेने की धमकी दी है। प्रदेश के होशंगाबाद जिले के रापूत कर्णी सेना ने अपने फेसबुक पोस्ट पर लोगों को धमकाते हुए लिखा है कि पद्मावती की टिकट लेने से पहले अपना बीमा जरूर करवा लेना। इस पोस्ट को देख यही लगता है कि ये दल सीधे तौर पर पद्मावती देखने जाने वाले लोगों को जान से मारने की धमकी दे रहा है।

इससे पहले ससे पहले गुरुवार को श्री राजपूत करणीसेना के सदस्य महिपाल सिंह मकराणा ने एक वीडियो के जरिये कहा है कि राजपूतों ने कभी नारियों पर हाथ नहीं उठाया लेकिन अगर जरूरत पड़ी तो वह दीपिका के साथ वैसा की करेंगे जैसे लक्ष्मण ने शूर्पनखा के साथ किया था। वहीं, श्री राजपूत करणीसेना प्रमुख लोकेंद्र सिंह कलवी ने एक प्रेस कान्फ्रेंस में कहा कि उन्होंने 1 दिसंबर को ‘भारत बंद’ की अपील की है। इस मामले को लेकर मेरठ में एक राजपूत नेता अभिषेक सोम ने ने कहा कि जो भी भंसाली की गर्दन काटकर लाएगा उसे 5 करोड़ रुपए के इनाम दिया जाएगा। ऐसे में जैस-जैसे फिल्म की रिजीलिंज डेट नजदीक आ रही है वैसे-वैसे संकट और गहराता जा रहा है।

कलवी ने कहा, “हम लाखों में इकट्ठा होंगे। हमारे पूर्वजों ने खून से इतिहास लिखा है, जिसे हम किसी को काला करने नहीं देंगे। हम 1 दिसंबर को भारत बंद का आह्वान करेंगे। उधर, केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने भी गुरुवार को भंसाली पर हमला किया। उन्होंने ट्वीट करके कहा, “अगर हम पद्मावती का आदर करने की बात करते हैं तो यह हमारी नैतिक जिम्मेदारी कि हम सभी औरतों का आदर करें। ” उन्होंने फिल्म पद्मावती की अभिनेत्री व अभिनेता का अपमान करने की बात को अनुचित व अनैतिक बताया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App