ताज़ा खबर
 

वीडियो: ताइवान की संसद में नेताओं के बीच जमकर चले लात-घूसे, कुर्सियां

नेताओं के बीच जमकर लात-घूसे और कुर्सियां चलीं।

संसद में हाथापाई की तस्वीरें। (Source: NBC News Video Grab)

संसद के माननीय सदस्यों के बीच मार-पीट की घटनाएं दुनियाभर में देखने को मिल सकती हैं। इस बात पर मुहर लगाने के लिए एक नया वीडियो सामने आ चुका है। यह वीडियो ताइवान की संसद का है। यह पर दो दलों के नेता आपस में भिड़ गए। नेताओं के बीच जमकर लात-घूसे और कुर्सियां चलीं। वहीं संसद की महिला सदस्य भी एक-दूसरे से उलझती हुई नजर आईं। संसद में हंगामे का यह वीडियो शुक्रवार (14 जुलाई) का है। रिपोर्ट्स के मुताबिक नेशनलिस्ट (कुओमिंतांग ) पार्टी के नेता संसद में सरकार के बिल का विरोध कर रहे थे। एक इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट के विरोध में विपक्षी दलों ने जबर्दस्त हंगामा किया। इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट को ताइवान के राष्ट्रपति त्सई इग-वेन ने देश के आर्थिक विकास के लिए जरूरी बताया है।

संसद में लंबे समय तक यह हंगामा चला। हंगामे के दौरान संसद सदस्यों ने एक-दूसरे पर पानी के गुब्बारे भी फेंके। इसके अलावा विपक्षी दल ने प्लेकार्ड और पर्चियां फेंक कर अपना विरोध प्रदर्शन शुरू किया। वहीं एनबीसी न्यूज ने संसद में हुए इस हंगामे का वीडियो ट्वीट किया है। वीडियो की शुरुआत में दो सांसद आपस में हाथा-पाई करते हैं। इसके बाद दोनों दलों के नेताओं के बीच झड़प शुरू हो गई। हालांकि कुछ सदस्य वीडियो में बीच-बचाव करते हुए भी नजर आते हैं लेकिन उनकी कोशिशें नाकाम ही साबित होती हैं। वहीं वीडियो में एक सांसद कुर्सी उठाकर मारने की धमकी देता हुआ भी नजर आता है।

HOT DEALS
  • Honor 8 32GB Pearl White
    ₹ 14210 MRP ₹ 30000 -53%
    ₹1500 Cashback
  • Honor 8 32GB Pearl White
    ₹ 12999 MRP ₹ 30999 -58%
    ₹1500 Cashback

वीडियो (Source: NBC News)

गौरतलब है ताइवान की संसद में हिंसक विरोध प्रदर्शन होने की यह पहली घटना नहीं है। द टेलीग्राफ की खबर के मुताबिक बीते अप्रैल महीने में भी संसद में ऐसा वाक्यात देखने को मिला था। उस दौरान संसद के बाहर पेंशन रिफॉर्म्स के विरोधियों ने कुछ नेताओं के साथ मार-पीट की थी। ऐसे ही पिछले साल सरकारी छुट्टियां घटाने को लेकर संसद सदस्यों के बीच  जमकर हाथापाई हुई थी जिसमें कई लोग घायल भी हो गए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App