scorecardresearch

अखिलेश यादव का कार्यकर्ता अभी कंट्रोल में नहीं है तो सरकार आने के बाद क्या करेगा? सुशांत सिन्हा के इस सवाल पर स्वामी प्रसाद ने दिया कुछ ऐसा जवाब

सुशांत सिन्हा (Sushant Sinha)ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) का नाम लेकर स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) से कई सवाल पूछे। इस दौरान स्वामी प्रसाद ने बताया कि किन स्थितियों में उन्होंने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) ज्वाइन की।

Akhilesh With Swami Maurya Photo, swami Maurya Photo ANI
पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ सपा प्रमुख अखिलेश यादव (फोटो सोर्स: ANI)।

यूपी विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हुए स्वामी प्रसाद मौर्य अब बीजेपी पर जमकर निशाना साध रहे हैं। इन्हीं तमाम विषयों को लेकर टाइम्स नाउ नवभारत चैनल के एंकर सुशांत सिन्हा ने उनसे बात की। एंकर ने स्वामी प्रसाद मौर्य से पूछा कि सपा प्रमुख अखिलेश यादव के कार्यकर्ता अभी कंट्रोल में नहीं हैं तो सरकार बनने के बाद उनकी बात कैसे सुनेंगे।

दरअसल समाजवादी पार्टी ज्वाइन करने के दौरान स्वामी प्रसाद मौर्य मास्क लगाए हुए नहीं दिखे। उस कार्यक्रम के दौरान कई ऐसे लोग थे जो मास्क नहीं लगाए हुए थे और भीड़ में शामिल थे। इसको लेकर स्वामी प्रसाद मौर्य से एंकर ने सवाल किया तो उन्होंने कहा कि हम समाजवादी पार्टी में सम्मिलित होने गए थे। अगर चुनाव आयोग ने कोरोना प्रोटोकॉल के तहत रैली करने को न कहा होता तो मैं किसी मैदान में इसकी घोषणा करने वाला था।

एंकर ने इस बात पर कहा, ” मुझे आप की भी चिंता हो रही है क्योंकि आप देश के इतने बड़े नेता हैं। 60 साल के आसपास आपकी उम्र है। आप कह रहे हैं कि मास्क गिर गया इसलिए मैंने दोबारा उठाया नहीं। आपको कुछ हो गया होता या मान लीजिए…आपके अंदर कोरोना घुस गया हो.. या कितने और लोगों के अंदर फैल गया हो, ये तो चिंता की बात है?”

पूर्व कैबिनेट मंत्री ने जवाब दिया कि आपकी बात को मैं स्वीकार कर रहा हूं लेकिन गिरा हुआ मास्क भी लगाना खतरे से खाली नहीं था। सुशांत सिन्हा ने उनसे कहा कि आपने मास्क पहना हुआ है लेकिन उसे दाढ़ी के नीचे कर लिया है। अगर आपकी फोटो मास्क में आती तब भी आप बहुत प्रभावशाली दिखते। स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि हमने सभी कार्यकर्ताओं और नेताओं से निवेदन किया था कि सभी कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करें।

इस पर सुशांत सिन्हा ने पूछा, ” आपकी इस बात को सुनकर लोग कहेंगे कि अखिलेश यादव की बात उनके कार्यकर्ता आज नहीं मान रहे हैं तो समाजवादी पार्टी की सरकार बनने के बाद क्या करेगा?” स्वामी मौर्य ने कहा कि ज्यादातर नेताओं ने मास्क पहना हुआ था लेकिन कुछ ऐसे भी लोग थे जो मास्क नहीं पहने हुए थे। इसका ध्यान रखा जाएगा। जानकारी के लिए बता दें कि स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ दो और कैबिनेट मंत्रियों ने बीजेपी का साथ छोड़ दिया है।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट