चीन को घर बुलाकर झूला झुलाना नहीं है विदेश नीति – बोलीं सुप्रिया श्रीनेत, बीजेपी प्रवक्ता ने यूं किया पलटवार

कांग्रेस प्रवक्ता के आरोप पर भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने पलटवार करते हुए कहा कि शायद ऐसा हो जाता है जब भारत मजबूती से अपना पक्ष रखता है तो कांग्रेस हेडक्वार्टर में आग लग जाती है।

TV Debate, News Debate
कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत (फोटो सोर्स – सोशल मीडिया)

ब्रिक्स सम्मेलन के मुद्दे पर चल रही एक डिबेट के दौरान कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा किन चीन को झूला झूलाना विदेश नीति नहीं होती है। उनके जवाब पर बीजेपी प्रवक्ता ने पलटवार करते हुए कहा कि जब भारत सरकार मजबूती से अपना पक्ष रखता है तो कांग्रेस हेड क्वार्टर में आग लग जाती है।

दरअसल यह डिबेट न्यूज़ 18 इंडिया के शो ‘आर – पार’ में हो रही थी। जिसमें कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने एंकर के एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि यह विदेश नीति की बात करते हैं। इनकी विदेश नीतियां है कि यूएस के 125 देशों के साथ वक्तव्य दिया तालिबान पर जिसमें हम नहीं थे। आपकी विदेश नीति तो यह है कि हमें जहां अलग-थलग कर दिया जाता है।

कांग्रेस प्रवक्ता ने बीजेपी पर तंज कसते हुए कहा कि आप की विदेश नीति तो यह है कि आप घर बुलाकर चीन को झूला झूलाते थे, महाबलीपुरम में सबमिट कराते थे। वो यूएन में मसूद अजहर को आतंकवादी होने पर आपको ब्लॉक करता रहा। उन्होंने कहा कि विदेश नीति पर आप मेरा मुंह मत खुलवाइयेगा। विदेश नीति फोटो खींचाना और गलबाहियां करना नहीं होता।

कांग्रेस प्रवक्ता के आरोप पर भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने पलटवार करते हुए कहा कि शायद ऐसा हो जाता है जब भारत मजबूती से अपना पक्ष रखता है तो आग लगती है कांग्रेस के हेडक्वार्टर में और इनको अब मैं सकारात्मक बातें बताऊंगा। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान चाहता था कि 370 हटने पर यूएन इस मामले में हस्तक्षेप करें लेकिन ऐसा नहीं हो पाया।

उन्होंने कांग्रेस पर कई आरोप लगाते हुए कहा कि 70 सालों में आप तो अनुच्छेद 370 नहीं हटा पाईं मैडम… अनुच्छेद 370 हमने हटाया। उन्होंने सुप्रिया श्रीनेत पर निशाना साधते हुए कहा कि आप कह रही थी कि चीन को झूला झुलाया। अरे भारत बुलाया, झूला झुलाया… और उसके बाद जब ठोकना था तो गलवान में ठोका भी.. जिसके बाद चीन की सेना वापस हटी।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट