ताज़ा खबर
 

संपादक ने हज यात्रा पर की हिंदुओं को भड़काने की कोशिश, लोगों ने की ट्विटर अकाउंट सस्पेंड करने की मांग

एक यूजर ने लिखा- आप हिंदू हैं या हिंदू धर्म के नाम पर मजाक हैं?

सुदर्शन न्यूज चैनल के संपादक सुरेश चव्हाणके। (Source: Facebook)

हिंदी न्यूज चैनल सुदर्शन न्यूज के संपादक सुरेश च्ह्वाणके ने हज यात्रा पर ऐसा ट्वीट किया है कि उनका ट्विटर अकाउंट ही सस्पेंड कर देने की मांग उठने लगी। दरअसल सुरेश चव्हाणके ने ट्वीट कर हिंदुओं को भड़काने का काम किया है। सुरेश चव्हाणके अकसर एक धर्म विशेष के खिलाफ बोलते नजर आते हैं। अभी दो दिन पहले ही उन्होंने अपने समाचार चैनल पर कुछ भर्तियां निकाली थीं जिसमें मुस्लिम समुदाय के लोगों का अप्लाइ करना मना था। इससे पहले भी सुरेश चव्हाणके अपने चैनल पर मुसलमानों के खिलाफ जहर उगलते रहे हैं। शिरडी में पैदा हुए सुरेश चव्हाणके 12 सालों से अपना चैनल चला रहे हैं। ये चैनल पहले पुणे से ऑपरेट होता था, जिसे बाद में नेशनल चैनल बनाकर नोएडा लाया गया। चव्हाणके की उम्र 45 साल है। इनका दावा है कि तीन साल की उम्र में ही इन्होंने RSS जॉइन कर लिया था, जिसके बाद ये 20 सालों तक संघ शाखाओं में जाते रहे। वहां रहते हुए इनका संघ के कई बड़े नेताओं से संपर्क हुआ। बाद में ABVP जॉइन करके पॉलिटिक्स में एक्टिव हो गए।

सोमवार 24 जुलाई को सुरेश चव्हाणके ने ट्वीट करते हुए लिखा कि इस्लाम में पवित्र हज यात्रा के लिए उड़ानें शुरू हुई हैं। दुनिया की कोई ताकत उस में खलल डाल नहीं सकती। हिंदू अपनी कमी को खुद खोजे।

सुरेश चव्हाणके के इस ट्वीट पर लोगों ने उनके अकाउंट को बंद करने की मांग कर डाली।

बहुत से यूजर्स ने सुरेश चव्हाणके के इस ट्वीट पर उन्हें बेहद तीखी भाषा में खरी-खोटी सुनाई। कुछ यूजर्स ने लिखा कि आप जैसे लोग कुछ भी कर लें लेकिन भाईचारा खत्म नहीं होगा। वहीं कुछ यूजर्स ने लिखा कि इतनी नफरत कहां से लाते हो, अगर हिम्मत है तो जाकर बॉर्डर पर क्यों नहीं लड़ते। कुछ यूजर्स ये भी लिख रहे हैं कि अपनी औकात से बाहर ना जाओ, लोगों को भड़काने की कोशिश करना बंद करो। एक अन्य यूजर ने लिखा- आप हिंदू हैं या हिंदू धर्म के नाम पर मजाक हैं, कोई भी हिंदू किसी भी धर्म के यात्रा में किसी प्रकार की बाधा पहुंचाने की सीख नहीं देता।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App