अब मां-बाप को भी नहीं बख्शेंगे क्या, और कितना गिरेंगे? योगी आदित्यनाथ पर कांग्रेस की सुप्रिया श्रीनेत ने यूं बोला हमला

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कुशीनगर में एक कार्यक्रम के दौरान यूपी के पिछली सरकारों पर हमला बोलते हुए कहा था कि 2017 के पहले भी राशन मिलता था लेकिन तब ‘अब्बा जान’ कहने वाले राशन हज़म कर जाते थे।

Uttar Pradesh, Yogi Adityanath
सुप्रिया श्रीनेत ने कहा है कि पिता का संबोधन गाली है क्या यूपी में योगी जी? (फोटो सोर्स – पीटीआई व सोशल मीडिया)

सीएम योगी आदित्यनाथ के अब्बा जान वाले बयान पर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। विपक्षी पार्टियां सीएम योगी पर जमकर हमला बोल रही हैं। उनके इस बयान पर कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने निशाना साधते हुए कहा है कि पिता का सम्बोधन अब गाली है क्या उप्र में योगी जी? उन्होंने इसके साथ ही एक सवाल करते हुए लिखा है कि अब आप मां-बाप को भी नहीं बख़्शेंगे? कितना और गिरेंगे?

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत के इस ट्वीट पर लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया भी दी है। @rami_malik नाम के एक टि्वटर यूजर ने कमेंट करते हुए लिखा कि ‘ अब्बा जान’ या ‘अब्बू’ बोलना गाली क्यों लगती है कांग्रेस को? एक टि्वटर हैंडल से राहुल गांधी पर तंज कसते हुए लिखा गया कि आपके सरताज को तो पिता का ‘उपनाम’ ही गाली लगता है। उधार का नाम लिए घूम रहे है जन्म से आज तक। थोड़ा उनसे भी पूछिये न कितना गिरेंगे?

@SharafatAzmi10 टि्वटर हैंडल से कमेंट आया कि गिरने की सारी सीमाएं पार कर चुके हैं और इससे भी नीचे गिरने की कोई जमीन ही नहीं बची है सत्ता के अहंकार में, अब उत्तर प्रदेश की जनता ही तय करेगी। एक ट्विटर यूजर लिखते हैं कि जब टोपी पहनकर नमाज पढ़ते हो तो दिक्कत नहीं होती। अब्बा जान बोल दिया तो बुरा मान गए? एक ट्विटर हैंडल से कमेंट किया गया कि इनके हर स्टेटमेंट के बाद लगता कि शायद यही इनके गिरावट का न्यूनतम स्तर है लेकिन फिर कोई नयी स्टेटमेंट आते ही ये उस स्तर से भी नीचे चले जाते हैं। वैसे ठीक ही है तभी तो हम खुद की पाकिस्तान-अफगानिस्तान के मुकाबले में ला पायेंगे…।

@SNH_111 टि्वटर हैंडल से सुप्रिया सीने से सवाल करते हुए लिखा गया कि मुसलमान का वोट चाहिए मगर अब्बा जान से नफरत, मतलब मुसलमान को वोट बैंक समझती हैं क्या? एक ट्विटर अकाउंट से लिखा गया कि मतलब आप कहना चाह रही हैं कि अब्बा जान एक गाली है।

जानकारी के लिए बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने कुशीनगर में एक कार्यक्रम के दौरान यूपी के पिछली सरकारों पर हमला बोलते हुए कहा था कि 2017 के पहले भी राशन मिलता था लेकिन तब ‘अब्बा जान’ कहने वाले राशन हज़म कर जाते थे। सीएम योगी के इसी बयान पर उत्तर प्रदेश का सियासी पारा बढ़ा हुआ है।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट