ताज़ा खबर
 

‘1.5 लाख का चश्मा लगाकर सूर्य ग्रहण देखता एक फकीर’, पीएम नरेंद्र मोदी को चश्मे पर ट्रोल कर रहे लोग

चश्मे का 'पोस्टमार्टम' करते हुए यूजर्स लिखने लगे कि ऐसा फकीर कहां दिखेगा जो 1.5 लाख के चश्मे लगाता है। कुछ अन्य यूजर्स ने लिखा कि देश की अर्थव्यवस्था गर्क में जा रही है औऱ हमारा प्रधानमंत्री 10 लाख का सूट और 1.5 लाख के चश्में पहन रहा है।

Author Published on: December 26, 2019 3:00 PM
सोशल मीडिया यूजर्स दावा कर रहे हैं कि पीएम मोदी ने Solar Eclipse 2019 के दौरान जो चश्मे पहने थे उसकी कीमत करीब 1.5 लाख है।

26 दिसंबर को साल का अंतिम सूर्यग्रहण लगा। आम लोगों के साथ ही देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस सूर्य ग्रहण को देखा। पीएम ने ग्रहण देखते हुए सोशल मीडिया में अपनी तस्वीरें भी शेयर कीं। इन तस्वीरों पर जहां ढेरों मीम्स बन गए वहीं कुछ लोग पीएम के चश्मे पर सवाल उठा रहे हैं। चश्मे की कीमत को लेकर पीएम मोदी को सोशल मीडिया में ट्रोल भी किया जा रहा है। तमाम लोगों के साथ नरेंद्र मोदी के राजनीतिक विरोधी भी उनपर निशाना साध रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी ये तस्वीरें ट्वीट करते हुए लिखा- अन्य भारतीयों के तरह मैं भी सूर्य ग्रहण को लेकर उत्साहित था। लेकिन निराशाजनक तौर पर मैं बादलों की वजह से सूरज को नहीं देख सका। हालांकि मैंने कोझिकोड और अन्य जगहों की लाइव स्ट्रीम की मदद से सूर्य ग्रहण को देखा। विशेषज्ञों से चर्चा के दौरान इस विषय को लेकर मैंने अपना ज्ञान भी बढ़ाया है।

 

पीएम द्वारा शेयर की गईं तस्वीरों में से एक में वह चश्मा लगा कर आसमान में सूर्य ग्रहण देखत नजर आ रहे हैं। सोशल मीडिया यूजर्स उनके चश्मे के दाम और उसके ब्रांड के सबूत देते हुए ट्रोल करने लगे। तमाम ट्विटर यूजर्स ने दावा किया है कि पीएम मोदी ने जिस चश्मे को पहना है उसकी कीमत करीब डेढ़ लाख है और पीएम मोदी द्वारा पहना गया चश्मा विदेशी कंपनी Maybach eyewear का है। ये जर्मनी की कंपनी है। बता दें कि मेबैक आईवियर का नाम दुनिया के सबसे मंहगे आईवियर कंपनियों में शुमार है।

चश्मे का ‘पोस्टमार्टम’ करते हुए यूजर्स लिखने लगे कि ऐसा फकीर कहां दिखेगा जो 1.5 लाख के चश्मे लगाता है। कुछ अन्य यूजर्स ने लिखा कि देश की अर्थव्यवस्था गर्क में जा रही है औऱ हमारा प्रधानमंत्री 10 लाख का सूट और 1.5 लाख के चश्में पहन रहा है। कांग्रेस की मीडिया प्रभारी राधिका खेरा ने लिखा- फकीर की फकीरी The “Artist” III – ₹1,55,000, कलेक्शन का नाम ग्राहक के हिसाब से उपयुक्त है!

 

देखिए किस तरह से चश्मे को लेकर प्रधानमंत्री को ट्रोल किया जा रहा है:

 

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने कई चुनावी भाषणों में खुद को फकीर बता चुके हैं। पीएम ने अपनी एक स्पीच में यह भी कहा था कि, हम तो फकीर आदमी हैं, झोला लेकर चल पड़ेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ‘बताओ तुम्हारी पैंट किसने सिली है..’, CAA पर गौरव वल्लभ ने की किरकिरी तो ऐसे सवाल पूछने लगे संबित पात्रा
2 कांग्रेस ने यूं किया BJP को Christmas विश- जुमला बेल्स, जुमला बेल्स, जुमला ऑल द वे
3 ‘इरफान अंसारी जीतेगा तो मंदिर कैसे बनेगा’, Jharkhand नतीजों के बाद योगी को इस बयान पर ट्रोल कर रहे लोग
ये पढ़ा क्या?
X