ताज़ा खबर
 

बीजेपी के पोस्टर में अभिनंदन की फोटो, सोशल मीडिया पर लानत-मलानत

भाजपा नेताओं ने पोस्टर में विंग कमांडर अभिनंदन की तस्वीर का इस्तेमाल करने पर सोशल मीडिया यूजर्स ने जमकर खरीखोटी सुनाई। यूजर्स ने कहा कि भाजपा में किसी तरह की शर्म नहीं बची है।

भाजपा के पोस्टर में विंग कमांडर अभिनंदन की तस्वीर। (Photo: Twitter@reachsk7)

भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान ने 27 फरवरी को हवाई लड़ाई में पाकिस्तानी वायु सेना के एफ-16 विमान को मार गिराया था। इसके बाद मिग के दुर्घटनाग्रस्त होने के बीच वे सुरक्षित विमान से बाहर निकल गये थे। हालांकि, तुरंत बाद उन्हें पाकिस्तान सेना ने पकड़ लिया था, लेकिन बाद में पाकिस्तान को उन्हें छोड़ना पड़ा। एक मार्च को देश का यह जाबांज योद्धा स्वदेश लौटे। पूरे देश के लोगों ने अभिनंदन का ‘अभिनंदन’ किया। भाजपा के लोगों ने जहां अभिनंदन की वापसी का श्रेय नरेंद्र मोदी को दिया तो वहीं, कुछ ने इसे अंतरराष्ट्रीय दबाव बताया। इसके बाद कई राज्यों में भाजपा के लोगों ने अपने पोस्टर में अभिनंदन की फोटो लगाई, जिसके बाद सोशल मीडिया पर लानत मलानत होने लगी। सोशल मीडिया यूजर्स भाजपा को ट्रोल करने लगे।

बीजेपी पुडुचेरी अकाउंट से एक ट्वीट किया गया है। इसमें लिखा है, “मान लिजीए कि यदि आज कांग्रेस की सरकार होती तो अभिनंदन सर अभी तक वापस नहीं लौटते। लेकिन यह मोदी काल है, इस वजह से पाकिस्तान ने 56 घंटे में उन्हें रिहा कर दिया। एक बार फिर से मोदी।”

सचिन कृष्ण नाम के यूजर ने पोस्टर को शेयर करते हुए लिखा, “विंग कमांडर अभिनंदन की तस्वीर को भाजपा के पोस्टर में लगाया गया है। क्या यह हमारी सेना का अपमान नहीं है?”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “यह साफ दिख रहा है कि भाजपा सर्जिकल स्ट्राइक का उपयोग अपने राजनीतिक लाभ के लिए कर रही है। यह साफ है कि क्यों वे विंग कमांडर अभिनंदन के बारे में और कुछ नहीं बोल रहे हैं।”

आकांक्षा ओला नाम की यूजर लिखती हैं, “भाजपा में किसी तरह की शर्म नहीं बची है। वे अपने स्वार्थ के लिए विंग कमांडर अभिनंदन की तस्वीर का प्रयोग कर रहे हैं।”

कमल कुमार लिखते हैं, “डियर बीजेपी, वोट पाने के लिए अभिनंदन का इस्तेमाल न करें। राजनीतिक शक्ति का इस्तेमाल करें। राजनीतिक बात नहीं।”

विंग कमांडर अभिनंदन की वापसी के बाद दिल्ली भाजपा अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी भी सेना की वर्दी पहन भाजपा की संकल्प रैली में पहुंचे थे। इसके बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने उनकी खिंचाई कर दी थी। कई नेताओं ने भी उनके उपर सेना के नाम पर राजनीति करने और सैनिकों का अपमान करने का आरोप लगाया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 VIDEO: रवीश कुमार का साथी एंकर्स पर निशाना- तुम ही सरकार से सवाल कर लो ना!
2 शाह फैसल ने की इमरान खान को शांति का नोबेल देने की वकालत, पड़ी बुरी लताड़
3 VIDEO: ‘ताली बजाने वाली सेना साथ लाए हैं’, एंकर के तंज पर अखिलेश ने दिया यह जवाब
ये पढ़ा क्या?
X