scorecardresearch

“PM की गरिमा और रुपये का दाम साथ गिरते थे”- डॉलर के मुकाबले रुपये में हुई गिरावट तो बॉलीवुड सिंगर ने यूं कसा तंज

रूपये में हो रही गिरावट को लेकर सिंगर विशाल ददलानी (Vishal Dadlani) ने तंज कसा है!

“PM की गरिमा और रुपये का दाम साथ गिरते थे”- डॉलर के मुकाबले रुपये में हुई गिरावट तो बॉलीवुड सिंगर ने यूं कसा तंज
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(फोटो सोर्स: ट्विटर/BJP)।

डॉलर के मुकाबले रुपया लगातार गिरता जा रहा है। 23 सितंबर को डॉलर के मुकाबले रुपया सबसे निचले स्‍तर यानी रुपये ने 81 प्रति डॉलर का स्‍तर पहली बार पार किया है। अभी रूपये की और गिरावट की उम्मीद जताई जा रही है लेकिन कारोबार के आखिर में यह 80.98 रुपये प्रति डॉलर के भाव पर बंद हुआ। रूपये में आई गिरावट पर सिंह विशाल ददलानी ने सरकार पर तंज कसा है।

विशाल ददलानी ने पीएम मोदी पर कसा तंज

विशाल ददलानी ने ट्वीट कर लिखा कि बधाई हो, कभी सुना था कि पीएम की गरिमा और रूपये का दाम, दोनों साथ गिरते थे। इन अंकल की “गरिमा” तो पहले से पूरी तरह अंडरग्राउंड है। तो, सब अच्छा। विकास ददलानी ने इशारों-इशारो में ही पीएम मोदी पर तंज कसा है। पीएम मोदी ने एक भाषण में रूपये में हो रही गिरावट को पीएम पद की गरिमा से जोड़ कर बयान दिया था।

सोशल मीडिया पर लोगों ने कसा तंज

सोशल मीडिया पर लोग विशाल ददलानी के इस ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। @sudeepkumarctc यूजर ने लिखा कि जब-जब रुपया कमजोर होता है, तब तब सारे लोग अर्थशास्त्री बन जाते हैं। खास कर विपक्षी दल नेता। @ysshukla यूजर ने लिखा कि PM की गरिमा तो 2024 में केंद्र के चुनाव पर ही पता चलेगा, पूरे विश्व में मंदी है ,मगर वहां आबादी कम है तो दिखाई नहीं देती।

@theashmitbansal यूजर ने लिखा कि बिलकुल, एक सिंगर की गरिमा उसके गानों से पहचानी जाती है। जिस तरह से आपके गाने खराब हो रहे हैं, मुझे यकीन है कि आपकी “गरिमा” भी उसी अनुपात में गिरी जा रही है। अपने करियर पर ध्यान दें। @manojbaser02 यूजर ने लिखा कि कुछ दिनो बाद साहेब डॉलर को भी यूएसए से इम्पोर्ट करने लगेंगे, जैसे चीता कर रहे है। @SarikaSharma25 यूजर ने लिखा कि 2014 से पहले तो सबसे बड़े अर्थशास्त्री, सीएम मोदीजी थे, जो रुपए को तब के पीएम मनमोहन सिंहजी की उम्र से जोड़े थे।

वहीं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मीडिया से बातचीत में कहा, ‘‘अगर मुद्राओं के उतार-चढ़ाव की मौजूदा स्थिति में किसी एक मुद्रा ने अपनी स्थिति को काफी हद तक बनाए रखा है तो यह भारतीय रुपया ही है। हमने काफी अच्छी तरह इस स्थिति का सामना किया है।’’ रूपये की गिरावट के बाद मोदी सरकार विपक्षियों और विरोधियों के निशाने पर आ गए हैं।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 24-09-2022 at 10:00:58 pm
अपडेट