ताज़ा खबर
 

श्रीनगर उपचुनाव: 8 लोगों की मौत और 7 प्रतिशत वोटिंग, बीजेपी सरकार की नीतियों को माना जाए जिम्मेदार

श्रीनगर लोकसभा क्षेत्र में मतदान के दौरान भीषण हिंसा हुई तथा सुरक्षाबलों की गोलीबारी में कम से कम आठ लोगों की जान चली गयी।

Author नयी दिल्ली | April 9, 2017 11:35 PM
जम्मू और कश्मीर।

छह राज्यों की नौ विधानसभा सीटों और श्रीनगर लोकसभा सीट पर रविवार को उपचुनाव संपन्न हुए। इस चुनाव में श्रीनगर लोकसभा क्षेत्र में मतदान के दौरान भीषण हिंसा हुई तथा सुरक्षाबलों की गोलीबारी में कम से कम आठ लोगों की जान चली गयी। श्रीनगर, बडगाम और गांदेरबल जिलों में दो दर्जनों से अधिक स्थानों से पथराव की खबर है, ये तीनों ही जिले श्रीनगर लोकसभा क्षेत्र में आते हैं। इस सीट के मुख्य मुकाबला नेशनल कांफ्रेंंस और कांग्रेस के संयुक्त उम्मीदवार फारूक अब्दुल्ला तथा सत्तारूढ़ पीडीपी के उम्मीदवार नजीर अहमद खान हैं। भीड़ को नियंत्रित करने में सुरक्षाबलों की मदद के लिए सेना बुला ली गयी। भीड़ पथराव कर रही थी। उसने गांदेरबल में पेट्रोल बम फेंककर मतदान केंद्र में आग लगा दी। अधिकारियों के अनुसार हिंसा में 100 से अधिक सुरक्षाकर्मी घायल हो गए। पिछले कई सालों में ये कश्मीर में सबसे कम वोट प्रतिशत है। इसको लेकर ट्विटर पर केंद्र की भाजपा सरकार को जमकर खिचाईं की गई। सिर्फ 7 प्रतिशत वोटिंग के लिए 8 लोगों की मौत के लिए कई यूजर्स ने केंद्र की बीजेपी सरकार को जिम्मेदार माना ।

 

पुलिस गोलीबारी में कई नागरिक भी घायल हो गए। जम्मू कश्मीर के मुख्य निर्वाचन अधिकारी शांतमनु ने बताया कि इस संसदीय सीट पर महज 6.5 फीसदी मतदान हुआ। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैं फिलहाल पुनर्मतदान के बारे में कुछ नहीं कह सकता। यह आंकड़ा करीब 50 या 100 या उससे अधिक मतदान केंद्र हो सकता है। ’’ सबसे अधिक हिंसा श्रीनगर लोकसभा सीट के बडगाम जिले में हुई जहां जिले के चरारे शरीफ, बीरवाह और छडूरा में दो दो व्यक्तियों की मृत्यु हो गयी जबकि एक व्यक्ति की मृत्यु जिले के ही मागम कस्बे में हुई। एक अन्य व्यक्ति की गांदेरबल के बारसू में मौत हो गयी।मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने हिंसा में लोगों के मरने पर शोक जताते हुए कहा कि मरने वाले लोगों में अधिकतर किशोर थे जो इस समस्या की जटिलता को अभी तक समझ भी नहीं पाये होंगे।

जम्मू-कश्मीर: पीडीपी नेता और मंत्री फारुख अंद्राबी के घर पर आतंकी हमला, सुरक्षाकर्मी घायल

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App