scorecardresearch

Shraddha Murder Case में आफताब को सही बता रहा था ‘राशिद’, यूपी पुलिस ने पकड़ा तो निकला ‘विकास’, लोग कर रहे ऐसे कमेंट्स

Viral News : सोशल मीडिया पर सच्चाई सामने आने के बाद लोग कई तरह के रिएक्शन दे रहे हैं।

Shraddha Murder Case में आफताब को सही बता रहा था ‘राशिद’, यूपी पुलिस ने पकड़ा तो निकला ‘विकास’, लोग कर रहे ऐसे कमेंट्स
उत्तर प्रदेश पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है (Photo Source – Social Media)।

नई दिल्ली में श्रद्धा हत्याकांड (Shraddha Murder Case) में आरोपी आफताब (Aftab) को सही ठहराने वाले शख्स को उत्तर प्रदेश की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वायरल वीडियो (Viral Video) में अपना नाम रशीद बताने वाले लड़केने अब अपना नाम विकास कुमार बताया है। सोशल मीडिया (Social Media) पर सच्चाई सामने आने के बाद लोग कई तरह के रिएक्शन दे रहे हैं।

बुलंदशहर पुलिस ने किया गिरफ्तार

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो के आधार पर बुलंदशहर पुलिस ने रशीद उर्फ़ विकास कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। बुलंदशहर पुलिस ने आरोपी की गिरफ़्तारी के बाद कहा कि इस वीडियो को दिल्ली में बनाया गया था, जिसमें आरोपी ने अपना नाम रशीद बताते हुए श्रद्धा मर्डर केस पर आपत्तिजनक कमेंट किये थे।

गिरफ़्तारी के बाद युवक ने कही यह बात

गिरफ़्तारी के बाद युवक ने अपनी गलती मानते हुए कहा कि उसने वीडियो में जो कुछ बोला था, वो गलत था। मुझे मालूम नहीं था कि इससे मुझे दिक्क्त हो सकती है। इसके साथ आरोपी युवक ने कहा,”आफताब पर बोलने के बाद से मैं खुद टेंशन में हूं। अब मुझे लग रहा था कि मैं यहां नहीं तो जेल में जरूर मर जाऊंगा।” गौरतलब है कि युवक ने अपने वायरल वीडियो में कहा था कि जब आदमी का दिमाग खराब हो जाता है तो वह 35 की वजह 36 टुकड़े भी कर देता है। चाकू लेकर काटते चले जाइए। मुझे भी इसका अनुभव है। मैं भी ऐसे ही काट दूंगा।

लोगों ने दिए ऐसे रिएक्शन

इस खबर की सच्चाई सामने आने के बाद सोशल मीडिया यूज़र्स का कहना है कि ऐसे लोगों पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। इन जैसे लोगों की वजह से समाज में गलत सन्देश जाता है। पत्रकार जुबैर ने इस खबर को अपने सोशल मीडिया हैंडल से शेयर कर लिखा,”राशिद (विकास कुमार) को भड़काऊ वीडियो के आधार पर गिरफ्तार कर लिया गया है।” पत्रकार उमाशंकर सिंह ने कमेंट किया कि देखिए कैसे कैसे प्रपंच रचे जाते हैं और फिर उसे वायरल किया जाता है ताकि समाज में धर्म के आधार पर खाई बढ़ाई जा सके। ये ‘फूट डालो और शासन करो’ की ही नीति है का नया रूप है। आरजेडी नेता शैलेश कुमार ने लिखा – देश को इसी षडयंत्र और इसे रचने वालों से बचाना है।

लेखक अशोक कुमार पांडे ने लिखा कि मुसलमानों को बदनाम करने के लिए विकास कुमार दाढ़ी बढ़ाकर राशिद खान बन गया और RW ने उसका खूब प्रचार किया। अब जब पुलिस सच्चाई सामने ले आई है उसके पहले लाखों व्हाट्सप्प नंबरों तक यह ज़हर पहुंच चुका होगा, सच्चाई हर जगह नहीं पहुंचेगी। यही खेल है। शुभम नाम के एक यूज़र ने लिखा कि विकास कहां है? ये सवाल सबकी जुबान पर है और विकास है कि राशिद बना टहल रहा है।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 25-11-2022 at 03:43:55 pm
अपडेट