ताज़ा खबर
 

शोभा डे का ट्वीट- भूल जाएं चोली के पीछे क्या है, पूछें- लोटस के नीचे क्या है

ट्विटर पर शोभा ने अपने फॉलोअर्स से कहा कि ''भूल जाइए चोली के पीछे क्‍या है। आइए पूछते हैं: लोटस (कमल) के नीचे क्‍या है? आमतौर पर, एक तालाब में, कमल के नीचे कीचड़ होता है।''

मशहूर सोशलाइट व पत्रकार शोभा डे। (Photo: Express Archive)

हाल ही में संपन्‍न हुए उपचुनावों में भारतीय जनता पार्टी का प्रदर्शन निराशाजनक रहा। अति-महत्‍वपूर्ण मानी जा रही यूपी की कैराना लोकसभा सीट पर विपक्षी दलों के गठबंधन ने भाजपा को हार का स्‍वाद चखाया। इसी के बाद पत्रकार व लेखिका शोभा डे ने बीजेपी के चुनाव चिन्‍ह ‘कमल का फूल’ पर तंज कसा है। ट्विटर पर शोभा ने अपने फॉलोअर्स से कहा कि ”भूल जाइए चोली के पीछे क्‍या है। आइए पूछते हैं: लोटस (कमल) के नीचे क्‍या है? आमतौर पर, एक तालाब में, कमल के नीचे कीचड़ होता है।” शोभा ने इसके साथ अखबार की एक कटिंग शेयर की, जिसके इलस्‍ट्रेशन में पीएम नरेंद्र मोदी भगवा कमल को उठाकर नीचे का स्‍याह पहलू देख रहे हैं।

शोभा ने कैराना उपचुनाव में बीजेपी की हार पर इशारों में यूपी सीएम योगी आदित्‍यनाथ को जिम्‍मेदार ठहराया। एक अन्‍य ट्वीट में शोभा ने कहा, ”योगी आदित्‍यनाथ अभी भी क्‍यों हैं? मेरा मतलब है कि उन्‍होंने अपने कार्यकाल में क्‍या किया है? हम ये तो जानते हैं कि उन्‍होंने क्‍या नहीं किया है। फेविकॉल चीफ मिनिस्‍टरशिप।” शोभा ने इसके बाद पीएम मोदी की विदेश यात्राओं पर भी ताना मारा।

शोभा ने एक तस्‍वीर शेयर की है जिसमें राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद पीएम मोदी का स्‍वागत करते दिख रहे हैं। इस फोटो पर लिखा गया है, ”भारतीय राष्‍ट्रपति दो दिनों के भारत दौरे पर आए पीएम मोदी का स्‍वागत करते हुए।” शोभा को उनके इन्‍हीं ट्वीट्स के लिए ट्विटर यूजर्स के गुस्‍से का सामना करना पड़ रहा है।

एसएस चौहान ने लिखा, ”आपसे इससे बेहतर टिप्‍पणी की उम्‍मीद नहीं है।” अरुण शर्मा ने लिखा, ”शोभा डे, आपसे इसी की उम्‍मीद की जा सकती है। देखती रहिए कि किसके पीछे और नीचे क्‍या है।”

देखें लोगों की टिप्‍पणियां:

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App