ताज़ा खबर
 

वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा गाजियाबाद से गिरफ्तार

विनोद वर्मा देशबंधु और बीबीसी में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। कुछ वक्त पहले तक वह अमर उजाला डिजिटल के प्रमुख थे।

पत्रकार विनोद वर्मा।

वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा को शुक्रवार तड़के यूपी के गाजियाबाद से गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के मुताबिक, उन पर ब्लैकमेलिंग, रंगदारी वसूलने और जान से मारने की धमकी देने का आरोप है। यह गिरफ्तारी छत्तीसगढ़ पुलिस ने की है। बता दें कि विनोद वर्मा देशबंधु और बीबीसी में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। कुछ वक्त पहले तक वह अमर उजाला डिजिटल के प्रमुख थे।

Journalist Vinod Verma arrested by Chhattisgarh Police from Ghaziabad’s Indirapuram over a case of blackmailing & extortion.

एबीपी न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, वर्मा को गाजियाबाद के इंदिरापुरम से अरेस्ट किया है। छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने विनोद वर्मा की गिरफ्तारी की निंदा की है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भूपेश सिंह बघेल ने कहा कि विनोद वर्मा के पास एक सीडी थी, जिसमें कथित तौर पर छत्तीसगढ़ के एक रसूखदार मंत्री दिखते हैं। सीडी में मंत्री एक लड़की के साथ आपत्तिजनक अवस्था में नजर आ रहे थे। नेता ने आरोप लगाया कि यह सीडी सबके पास थी, ऐसे में विनोद वर्मा की गिरफ्तारी निंदनीय है। छत्तीसगढ़ सरकार को इस सीडी की प्रमाणिकता की जांच करानी चाहिए।

उधर, यूपी पुलिस ने बताया है कि इस गिरफ्तारी को सिर्फ छत्तीसगढ़ पुलिस ने अंजाम दिया है। पूर्व पत्रकार और आप के सीनियर नेता आशुतोष ने इस गिरफ्तारी को प्रेस पर हमला बताया है। वहीं वरिष्ठ पत्रकार उर्मिलेश ने ट्वीट कर लिखा कि वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा को सुबह 3 बजे छत्तीसगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आपातकाल के दिन यहां हैं।

देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App