ताज़ा खबर
 

‘रिकवरी रेट की चादर से मत ढंको 58,390 मौतों को..’, रवीश कुमार ने कोरोना के सरकारी आंकड़ों पर साधा निशाना

Ravish Kumar ने आगे ये भी लिखा कि 58,390 लोगों की मौत कोई सामान्य घटना नहीं है। उन्होंने लोगों से कहा कि सतर्क रहें और प्रोपेगैंडा की चपेट में न आएं। झूठ ने आपको बेरोज़गार किया। झूठ आपकी ज़िंदगी लेना चाहता है।

Updated: August 25, 2020 12:59 PM
वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार ने कोरोना के सरकारी आंकड़ों पर साधा निशाना। (फोटो सोर्स- सोशल मीडिया)

कोरोना वायरस का कहर भारत में विकराल रूप लेता जा रहा है. कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 31 लाख के पार जा चुकी है। पिछले 24 घंटों में कोरोना के 60,975 नए मरीज सामने आए हैं वहीं इतने ही समय में 848 लोगों की मौत भी हुई है। कोरोना पर स्वास्थ मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में इस संकर्मण से ठीक होने वालों की संख्या करीब 75 प्रतिशत है। सोशल मीडिया में भी सरकार समर्थित लोग इस बात का जोरशोर से प्रचार कर रहे हैं कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार कोरोना से निपटने में कारगर कदम उठा रही है। इसी तरह की कोशिशों पर वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार ने सरकार पर निशाना साधा है।

कोरोना से उपजी स्थिति को लेकर रवीश कुमार ने अपने फेसबुक पेज से लिखा है कि रिकवरी रेट की चादर से मत ढंको कोरोना से 58,390 लोगों की मौत को। रवीश कुमार ने अपने इश पोस्ट में बताया कि डबलिंग रेट के बाद रिकवरी रेट मिल गई है। लेकिन इसमें भी भारत दुनिया में 11 वें नंबर पर है।

रवीश कुमार ने आगे एक ट्विटर यूजर का हवाला देते हुए लिखा कि रिकवरी रेट के मामले में पाकिस्तान भारत से बहुत आगे है। पाकिस्तान चीन के बाद दूसरे नंबर पर है। भारत में कोरोना के संक्रमित मामलों की संख्या 31 लाख से अधिक हो चुकी है। अगले 24 घंटे में 32 लाख से अधिक हो जाएगी। पिछले 24 घंटे में 60,975 मामले सामने आए और 848 लोगों की मौत हुई है।

रवीश कुमार ने आगे ये भी लिखा कि 58,390 लोगों की मौत कोई सामान्य घटना नहीं है। उन्होंने लोगों से कहा कि सतर्क रहें और प्रोपेगैंडा की चपेट में न आएं। झूठ ने आपको बेरोज़गार किया। झूठ आपकी ज़िंदगी लेना चाहता है।

रवीश कुमार के इस फेसबुक पोस्ट पर बहस छिड़ गई है। कुछ यूजर्स रवीश कुमार को ट्रोल करते हुए लिख रहे हैं कि पाकिस्तान औऱ भारत की कहीं तुलना ही नहीं हो सकती लेकिन बीजेपी को नीता दिखाने के लिए आप ऐशा कर रहे हैं। वहीं कुछ यूजर्स ने रवीश कुमार की बातों से सहमति जताते हुए लिखा कि यहां लोग कोरोना और बेरोजगारी से तबाह हो रहे हैं औऱ हमारे देश के पीएम मोर के साथ फोटोग्राफी करा रहे हैं।

Next Stories
1 ‘चिंगारी कोई भड़के, तो..’, लाइव डिबेट में ही गाना गाने लगे संबित पात्रा, कांग्रेस नेता को शुक्राचार्य बताते जोड़े हाथ
2 जब बेटों की हरकत पर बुरी तरह भड़क गए थे धीरू भाई अंबानी, मुकेश और अनिल को दो दिनों के लिए गराज में कर दिया गया था बंद
3 ‘आप खुले बालों में बहुत सेक्सी लगते हैं..’, जब बाबा रामदेव को ऐसे देख बोल पड़ी थी महिला
ये पढ़ा क्या?
X