scorecardresearch

लाइव शो में संबित पात्रा ने असदुद्दीन ओवैसी के नेता से कहा – ये वारिस पठान नहीं पहले रामनारायण थे, यूजर्स ने दिए ऐसे रिएक्शन

टीवी डिबेट (TV Debate) का यह वीडियो बीजेपी नेता कपिल मिश्रा (Kapil Mishra) द्वारा शेयर किया गया है। जिस पर लोग भी अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

Sambit patra vs Owaisi| Sambit Patra VS Owaisi TV Debate| TV Debate Sambit Patra|
बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा (Photo Source – Social Media)

ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर हो रही है टीवी डिबेट के दौरान बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा (Sambit Patra) ने एआईएमआईएम नेता वारिस पठान (Waris Pathan) पर तंज कसा। उन्होंने वारिस पठान को लेकर कहा कि वह पहले रामनारायण थे। टीवी डिबेट के इस वीडियो को बीजेपी नेता कपिल मिश्रा द्वारा शेयर किया गया। सोशल मीडिया यूजर्स कई तरह के रिएक्शन देते नजर आ रहे हैं।

डिबेट में संबित पात्रा ने कही यह बात: ज्ञानवापी मस्जिद के मुद्दे पर हो रही डिबेट के दौरान संबित पात्रा ने कहा, ‘ आपको लगता है कि केवल औरंगजेब ने मंदिर को मस्जिद बना दिया है, ये हमारे वारिस पठान बेचारे रामनारायण थे। इनको भी वारिस पठान बनाया है। उन्होंने आगे डिबेट में मौजूद अतीक उर रहमान को लेकर कहा कि हम दोनों एक जैसे लगते हैं, आपको लगता है कि यह सऊदी अरब से आए थे।

पात्रा ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि यह सऊदी अरब से नहीं आए थे बल्कि इनको भी रामनारायण से अतीक उर रहमान बनाया गया। औरंगजेब ने मंदिर को मस्जिद बना दिया और अतीक उर रहमान को रामनारायण से अतीक उर रहमान बना दिया। बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने हंसने वाली इमोजी के साथ इस वीडियो को शेयर करते हुए कमेंट किया कि सीधी बात।

लोगों की प्रतिक्रियाएं : संजय तिवारी नाम के कैसे पूछते हैं कि बताओ भाई यह सत्य है या नहीं? पीयूष कुमार नाम के एक यूजर ने लिखा – वाह क्या बात है भाई संबित पात्रा? अभिषेक त्रिपाठी नाम के ट्विटर हैंडल से लिखा गया, ‘ रामनारायण को वारिस पठान, कमाल करते हो भाई।’ अभिनव पांडे नाम के ट्विटर हैंडल से लिखा गया कि यह क्या कह दिया संबित पात्रा जी ने? उदय कुमार सिंह ने लिखा – वाह, कितने साधारण तरीके से समझा दिया।

विकास नाम के एक यूजर ने कमेंट किया कि सत्ता में आने के बाद बीजेपी ने केवल हिंदू मुसलमान ही किया है। ऐसी पार्टियां धार्मिक उन्माद को बढ़ाती हैं और फिर झेलना आम जनता को पड़ता है। ताहिर खान नाम के टि्वटर हैंडल से सवाल किया गया – अगर यह सत्य है तो वारिस पठान का नाम फिर से रामनारायण क्यों नहीं करवा देते हैं? आप लोगों को तो केवल धार्मिक भावनाओं को आहत करना है।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट