scorecardresearch

संबित पात्रा ने हिजाब में लड़की संग राहुल गांधी की फोटो शेयर कर साधा निशाना, कांग्रेस ने यूं किया पलटवार

संबित पात्रा की पोस्ट पर कांग्रेस नेत्री सुप्रिया श्रीनेत ने पलटवार कहा कि एक छोटी सी बच्ची को भी नहीं बख्शा।

संबित पात्रा ने हिजाब में लड़की संग राहुल गांधी की फोटो शेयर कर साधा निशाना, कांग्रेस ने यूं किया पलटवार
कांग्रेस नेता ने संबित पात्रा की यह पुरानी तस्वीर शेयर कर पलटवार किया है (फोटो सोर्स – सोशल मीडिया)

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी इन दिनों ‘भारत जोड़ो यात्रा’ पर हैं। इस दौरान भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल गांधी और उनके साथ में खड़ी हिजाब पहने एक छोटी लड़की की तस्वीर शेयर कर निशाना साधा। जिस पर कांग्रेस नेताओं ने उन्हें घेर लिया। कुछ लोग उनकी जालीदार टोपी पहने तस्वीर शेयर कर ट्रोल करने लगे।

संबित पात्रा ने शेयर की यह तस्वीर

संबित पात्रा ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से हिजाब पहने एक बच्ची का हाथ पकड़े राहुल गांधी की तस्वीर साझा की। जिसके साथ उन्होंने लिखा, ‘जब धार्मिक आधार पर वोट का ‘हिसाब’ किया जाता है, तब वो तुष्टीकरण कहलाता है।’ संबित पात्रा द्वारा किए गए इस ट्वीट पर कांग्रेस नेताओं के साथ आम सोशल मीडिया यूजर्स भी उन पर कटाक्ष करने लगे।

सुप्रिया श्रीनेत ने किया पलटवार

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने पात्रा के ट्वीट पर पलटवार कर कहा कि, ‘संबित तुमसे ज्यादा घटिया और गिरा हुआ व्यक्ति मैंने अपने जीवन में नहीं देखा। एक छोटी सी बच्ची को भी नहीं बख्शा, यात्रा में अपार जनसमूह देखकर बौखलाना एक बात है, पर नफरत में इस तरह अंधा होना।’ कांग्रेस नेता श्रीनिवास बीवी ने जालीदार टोपी पहने संबित पात्रा की तस्वीर के साथ लिखा – जरा ‘टोपी’ से पहचानों, ये मियां कौन हैं।

कांग्रेस नेताओं ने घेरा

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने लिखा कि घटिया से भी ज्यादा घटिया। कांग्रेस नेत्री डॉली शर्मा ने कमेंट किया, ‘आप मूर्खों के सरताज हो संबित पात्रा। धर्म और जात के इस चश्मे को उतार कर भी कभी देखना चाहिए, ये भारत जोड़ो यात्रा है।’ कांग्रेस नेता तौकीर आलम ने भारत जोड़ो यात्रा के दौरान की कई और तस्वीरें शेयर कर लिखा कि तुम इतने जहरीले क्यों हो? तुम्हें पूरी यात्रा में अब तक सिर्फ एक ही तस्वीर दिखाई दी.. कितना नफरत करते हो तुम मुसलमान से?

आम यूजर्स के रिएक्शन

पत्रकार मोहम्मद ज़ुबैर ने मजार पर चादर चढ़ाते और जालीदार टोपी पहने संबित पात्रा की तस्वीर के साथ लिखा, ‘टोपी लाओ रे, मैं नमाज पढ़ने जा रहा हूं।’ पत्रकार साक्षी जोशी ने कमेंट किया – जब धार्मिक आधार पर वोट की ‘टोपी’ पहनी जाती है, तब वो तुष्टीकरण कहलाता है। लेखक अशोक कुमार पांडे ने लिखा कि जब ऐसी मासूम बच्ची को देखकर भी केवल धर्म याद आए तो यह नीचता कहलाता है।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.