ताज़ा खबर
 

VIDEO: ‘जूते मारो राहुल गांधी को’, अपने बयान पर संबित पात्रा ने लाइव टीवी पर मांगी माफी

पात्रा ने कहा, 'मुझे राहुल गांधी के लिए ऐसा नहीं कहना चाहूंगा, खेद है, लेकिन मैं भी एक बात कहना चाहूंगा कि मुझे भी यह जानकर कष्ट हुआ कि इस प्रकार से बहस का स्तर गिरता जा रहा है। एक बात मैं भी कहूंगा, मुझे भी खेद है और कांग्रेस भी खेद जताए कि आपने प्रधानमंत्री को औरंगजेब कहा।'

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा (फोटो सोर्स- एक्सप्रेस फाइल फोटो)

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को जूते मारने वाले अपने बयान को लेकर अब लाइव टीवी पर माफी मांग ली है। पात्रा ने हिंदी न्यूज चैनल आज तक के कार्यक्रम हल्ला बोल में सबके सामने अपने बयान को लेकर खेद प्रकट किया है। बीजेपी प्रवक्ता ने कहा, ‘कल बहस के दौरान वहां सब चिल्ला रहे थे, हल्ला हो रहा था। जिस प्रकार सर्जिकल स्ट्राइक पर बहस चल रही थी मुझे कहना था जूते मारो गद्दारों को और कांग्रेस के प्रवक्ता ने जिस प्रकार का ड्रामा किया मेरे मुंह से गलती से राहुल निकल गया। मुझे बिल्कुल पता है कि इस प्रकार की भाषा का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए, मुझे खेद है।’

इसके साथ ही संबित पात्रा ने कांग्रेस से भी अपील की कि उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को औरंगजेब नहीं कहना चाहिए था और इसके लिए माफी मांगी जानी चाहिए। पात्रा ने कहा, ‘मुझे राहुल गांधी के लिए ऐसा नहीं कहना चाहूंगा, खेद है, लेकिन मैं भी एक बात कहना चाहूंगा कि मुझे भी यह जानकर कष्ट हुआ कि इस प्रकार से बहस का स्तर गिरता जा रहा है। एक बात मैं भी कहूंगा, मुझे भी खेद है और कांग्रेस भी खेद जताए कि आपने प्रधानमंत्री को औरंगजेब कहा। आप भी खेद जताइए कि आपने सर्जिकल स्ट्राइक को खून की दलाली कहा। राजनेताओं को कुछ कहते हैं तो उन्हें बुरा लगता है, उसी तरह आर्मी को भी अगर कुछ कहा जाता है तो आर्मी को भी बुरा लगता है।’ संबित पात्रा के इस बयान के पर कांग्रेस की प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि उनकी पार्टी अगर-मगर वाली माफी स्वीकार नहीं करेगी। उन्होंने कहा, ‘अगर संबित पात्रा को माफी मांगनी है तो बकायदा पूरे तौर तरीके के साथ माफी मांगी जानी चाहिए।’

क्या कहा था पात्रा ने ?

दरअसल, 28 जून को हुए एक टीवी डिबेट में संबित पात्रा और कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी को आमंत्रित किया गया था। बहस के दौरान दोनों नेता अपनी-अपनी बात रखते हुए चिल्लाने लगे। उसी बीच पात्रा ने ‘जूते मारो राहुल गांधी को’ के नारे लगाने शुरू कर दिए। सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर हो रही बहस में पात्रा ने कहा कि राहुल गांधी ने कहा था कि सेना खून की दलाली करती है। इतना बोलने के बाद पात्रा जोर-जोर से चिल्लाने लगे और काफी उत्तेजित होते हुए उन्होंने जूते मारो राहुल को कह दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App