scorecardresearch

राजस्थान में सियासी संकट के बीच सोशल मीडिया पर सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर शेयर हो रहे ऐसे मीम्स, देखिए यहां

सोशल मीडिया यूजर्स राजस्थान में कांग्रेस के राजनीतिक संकट को लेकर कई तरह की प्रतिक्रियाएं देते नजर आ रहे हैं।

राजस्थान में सियासी संकट के बीच सोशल मीडिया पर सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर शेयर हो रहे ऐसे मीम्स, देखिए यहां
केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और कांग्रेस नेता सचिन पायलट (फाइल फोटो)

राजस्थान कांग्रेस में जारी राजनीतिक ड्रामे को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स कई तरह के मीम्स शेयर कर रहे हैं। कांग्रेस नेता सचिन पायलट और केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर यूजर्स जमकर चुटकी ले रहे। वहीं कुछ सोशल मीडिया यूजर्स कांग्रेस की ‘भारत जोड़ों यात्रा’ पर भी कई तरह के सवाल उठा रहे हैं।

सोशल मीडिया पर यूं मजे ले रहे लोग

पत्रकार सौरभ त्रिपाठी ने चुटकी लेते हुए लिखा, ‘राजस्थान में संग्राम शुरू, पायलट उड़ते, उससे पहले मौसम गड़बड़ा गया है।’ पत्रकार अभिषेक उपाध्याय ने कमेंट किया कि सिंधिया ने साबित कर दिया कि वे कांग्रेस को बेहतर समझते थे, पायलट को माया मिली ना राम। टीवी एंकर शुभंकर मिश्रा ने लिखा – ‘पायलट’ की फ्लाइट उड़ पाती। उससे पहले ही राजस्थान का सियासी मौसम गड़बड़ा गया है।

शेयर हो रहे ऐसे मीम्स

@vajinkya16 नाम के टि्वटर यूजर ने राजस्थान के सियासी संकट पर एक वीडियो शेयर करते हुए चुटकी ली है। एक टि्वटर हैंडल से मीम के जरिए ज्योतिरादित्य सिंधिया और सचिन पायलट पर चुटकी लेते हुए सवाल किया गया कि क्या पुराने दोस्त एक बार फिर से एक साथ होंगे?

करिश्मा मेहता नाम की एक यूज़र ने सचिन पायलट को टैग करते हुए पूछा – खून का खौलेगा तेरा। पवन ठाकुर नाम के एक यूजर द्वारा लिखा गया – सुन रहे हो ना बिनोद.. राजस्थान और छत्तीसगढ़ हारते ही कांग्रेस को भी ‘चीतों’ की तरह विलुप्त प्रजाति का दर्जा मिल जायेगा।

मोनिका सिंह नाम की एक यूज़र लिखती हैं – अध्यक्ष बनने से पहले खुद की सरकार तोड़ने वाले गहलोत बची खुची कांग्रेस को भी निपटा देंगे। रविशंकर नाम के एक यूजर ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को टैग कर लिखा – अरे भाई अपने साथ सचिन पायलट को भी लेते जाते तो क्या बुराई हो जाती?

जानिए पूरा मामला

कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए चुनाव होने थे। इस बीच राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम पर चर्चा थी। इसके साथ ही यह बात भी की जा रही थी कि वह मुख्यमंत्री पद छोड़ देंगे तो सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बना दिया जाएगा। इतने से बात बन जाती तो क्या था लेकिन कुछ विधायक सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाना चाह रहे हैं तो वहीं गहलोत गुट वाले विधायक सीपी जोशी को सीएम बनाना चाहते हैं।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 26-09-2022 at 07:10:09 pm
अपडेट