आपको तो खेतों से मतलब होना चाहिए, कहां पॉलीटिशियन बनने की कोशिश कर रहे – किसान नेता से बोलीं एंकर, योगेंद्र यादव का जवाब – दिक्कत हो गई न?

योगेंद्र यादव ने कहा – मैं अपने आप को उस दिन किसान लिखना बंद कर दूंगा जिस दिन आप स्टूडियो में राजनाथ सिंह को बुलाकर उनसे सवाल पूछने की हिम्मत दिखाएंगी।

Yogendra yadav photo jansatta, yogendra PTI
आपको तो खेतों से मतलब होना चाहिए, कहां पॉलीटिशियन बनने की कोशिश कर रहे – किसान नेता से बोलीं एंकर, योगेंद्र यादव का जवाब – दिक्कत हो गई न? (फोटो सोर्स – पीटीआई)

मोदी सरकार द्वारा कृषि कानूनों की वापसी के ऐलान के बाद भी किसान संगठन आंदोलन खत्म करने की बात नहीं कर रहा है। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत का कहना है कि एमएसपी सहित कई और मुद्दों पर सरकार से बात करनी है। इन्हीं तमाम बातों को लेकर एबीपी न्यूज़ के साथ एक इंटरव्यू के दौरान किसान नेता योगेंद्र यादव एंकर रुबिका लियाकत पर तंज कसने लगे।

योगेंद्र यादव ने कहा – मैं अपने आप को उस दिन किसान लिखना बंद कर दूंगा जिस दिन आप स्टूडियो में राजनाथ सिंह को बुलाकर उनसे सवाल पूछने की हिम्मत दिखाएंगी। जब आप उनसे पूछेंगी कि आपको तो खेतों में होना चाहिए। इसी तरह का सवाल आप गृह मंत्री अमित शाह से भी पूछेंगी। इस पर एंकर ने कहा – आपको तो खेतों से मतलब होना चाहिए, आपको कहां पॉलिटिक्स करने की पड़ी हुई है।

इस सवाल पर योगेंद्र यादव ने हंसते हुए पूछा कि दिक्कत हो गई न? डिबेट का यह वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। कांग्रेस नेता अशोक बसोया ने ये वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि दिक्कत हो गई रुबिका जी को जैसे ही सवाल पूछ लिया भाजपा के लिए योगेंद्र यादव ने। कांग्रेस नेता मनोज मेहता लिखते हैं कि शायद रूबीका को मालूम नहीं कि राजनीति में होने का मतलब चुनाव लड़ना ही नहीं बल्कि समाज को बदलने का संघर्ष है।

हर आदमी दे एक रुपया- प्रशांत भूूषण को सजा के बाद योगेंद्र यादव ने चलाया अभियान, किए दो ऐलान- जानें डिटेल्‍स

जतिंदर कुमार (@tonyJatinder9) टि्वटर हैंडल से लिखा गया कि जब भाजपा नेताओं से सवाल करने को कहा गया तो मैडम को दिक्कत हो गई।
एस. ए खान (@iamSkhan) नाम के टि्वटर हैंडल से लिखा गया कि राजनीति का मतलब क्या होता है? राजनीतिक पार्टियों का क्या काम होता है? आम आदमी, किसान या स्टूडेंट जनप्रतिनिधियों से सवाल नहीं पूछ सकते क्या?

BJP, RSS, VHP ने कितने कत्ल किए- कांग्रेस नेता पर बरसीं रुबिका लियाकत, मिला जवाब- सुनने का साहस रखिए जो दृढ़ता से साथ खड़ी हैं

संजीव जैन (@sanjusapana) नाम के ट्विटर अकाउंट से कमेंट किया गया कि रुबिका लियाकत जी पॉलिटिक्स करने का अधिकार सबको है। यह अधिकार हमें संविधान दे रहा है। श्यामदयाल (@shyamdayal1996) नाम के टि्वटर हैंडल से लिखा गया कि रुबिका लियाकत के अनुसार खेतों में काम करने वाले पॉलिटिक्स नहीं कर सकते… केवल ये स्टूडियो में पत्रकारिता छोड़कर पॉलिटिक्स कर सकती हैं।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट