ताज़ा खबर
 

RTI में सवाल- क्या हम एलिंयस के हमले के लिए हैं तैयार? ट्विटर यूजर्स ने कहा- जब रजंनीकांत हैं तो क्या डरना

RTI में पूछा गया है कि अगर एलियंस ने भारत पर हमला कर दिया तो ऐसी स्थिति से निपटने के लिए भारत सरकार की क्या तैयारियां हैं? क्या हम विल स्थिम के बिना एलियंस को हरा सकते हैं?

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने ट्विटर पर इस आवेदन की कॉपी शेयर की थी।

गृह मंत्रालय को डाली गई एक आरटीआई सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। आरटीआई में पूछा गया है कि अगर देश पर एलियन हमला कर दे तो भारत सरकार इस स्थिति से कैसे निपटेगी? केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने ट्विटर पर इस आवेदन की कॉपी शेयर की थी। गृह राज्य मंत्री ने इस कॉपी को ट्वीट करते हुए लिखा- मामले का विषय बहुत ही साइंटिफिक है। इस तरह की आरटीआई ऑफिस स्टाफ का समय खराब करती हैं।

आरटीआई में पूछे थे ये सवाल :
इस आरटीआई ने उस समय लोगों को इंटरनेट पर चौंकाया जब जर्नलिस्ट अभिमन्यु घोषाल ने इसे ट्वीट किया। इससे पहले यह आरटीआई फेसबुक पर Yourti.in द्वारा जून में पोस्ट की गई थी, लेकिन यह आरटीआई मंगलवार को वायरल हुई। RTI में पूछा गया है कि अगर एलियंस ने भारत पर हमला कर दिया तो ऐसी स्थिति से निपटने के लिए भारत सरकार की क्या तैयारियां हैं? क्या गृह मंत्रालय इस बारे में जानकारी दे सकता है? एलियंस को हराने के लिए भारत के पास क्या संसाधन है? उनको हराने की कितनी संभावनाएं हैं? क्या हम विल स्थिम के बिना एलियंस को हरा सकते हैं? बता दें कि एक्टर विल स्मिथ एलियंस पर आधारित हॉलिवुड मूवी मैन इन ब्लैक में थे।

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू का ट्वीट। (Photo: Twitter) केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू का ट्वीट। (Photo: Twitter)

ये रही लोगों की प्रतिक्रिया:
इस आरटीआई पर लोगों भी भिन्न-भिन्न प्रकार की प्रतिक्रिया रही। अधिकतर लोगों का कहना था कि जब देश में रजनीकांत हैं तो हमें एलियंस से डरने की क्या जरूरत है। आरटीआई में पूछा गया था कि क्या हम एलिंयस का सामना विल स्मिथ (हॉलिवुड एक्टर) के बिना कर पाएंगे ? उसी के जवाब में लोगों ने यह प्रतिक्रिया दी।

Read Also: पीएम बनने की सारी खूबियां मुझमें है, एक ही कमी है कि मैं मुस्लिम हूं: आजम खान

वहीं एक यूजर ने लिखा कि अपने सल्लू भाई (सलमान खान) ही काफी हैं।

एक शख्स ने तो जॉम्बी से बचाव की एक किताब पढ़ने की सलाह दे डाली।

इनका कहना है कि आरटीआई आवेदन करने वाले शख्स को पदम पुरस्कार से सम्मानित करना चाहिए।

इनके मुताबिक गृह मंत्रालय को इसे मजाक में लेना चाहिए था।

Read Also:  फोर्ब्स की 100 सबसे अमीर भारतीयों की लिस्ट में रामदेव के सहयोगी और पतंजलि आयुर्वेद के आचार्य बालकृष्ण