ताज़ा खबर
 

तेल के दाम चढ़े तो कवि बन गए लालू यादव, पूछा- सरकार बताए, गरीब कहां जाए

लालू इस वक्त बिहार के बहुचर्चित चारा घोटाले के एक मामले में सजा काट रहे हैं। रांची स्थित राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (रिम्स) में उनका इलाज चल रहा है। रिपोर्ट्स में दावा किया वह अवसाद में चले गए। मेडिकल बुलेटिन में भी कुछ ऐसी ही बात सामने आई थी।

राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव। (एक्सप्रेस फोटोः प्रशांत रवि)

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव ने तेल के दाम चढ़ने को लेकर सरकार पर तंज कसा है। शनिवार (आठ सितंबर) को सोशल मीडिया पर उन्होंने एक कविता लिखकर पेट्रोल और डीजल की बढ़ी कीमतों पर सरकार से सवाल किया। लालू ने ट्वीट कर पूछा, “एक तरफ तेल का कुआं और दूसरी तरफ महंगाई की खाई। आम आदमी का तेल निकाल रही सरकार बताई, गरीब कहां जाई।”

आपको बता दें कि पेट्रोल और डीजल के दाम में शनिवार को बढ़ोतरी हुई थी। नई दिल्ली में पेट्रोल 39 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ, जबकि डीजल के दाम में 44 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई। बीते दो हफ्तों में पेट्रोल-डीजल में हुआ यह दूसरा सबसे बड़ा इजाफा है। वृद्धि के बाद दिल्ली में पेट्रोल 80 रुपए अड़तीस पैसे प्रति लीटर हो गया, जबकि डीजल 72 रुपए 51 पैसे प्रति लीटर मिला।

यह रहा लालू का ट्वीट

HOT DEALS
  • Honor 7X 64GB Blue
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback
  • Honor 7X 64GB Blue
    ₹ 15398 MRP ₹ 17999 -14%
    ₹0 Cashback

पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों को लेकर कांग्रेस और वामपंथी पार्टियों ने राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन का ऐलान किया। कांग्रेस ने 10 सितंबर को भारत बंद बुलाया, जबकि उसी दिन वामपंथी दल भी कुछ प्रदर्शनों में हिस्सा लेंगे। द्रविड़ मुनेत्र कड़गम ने तेल की कीमतों में हुई बढ़ोतरी को लेकर इन प्रदर्शनों में शामिल होगी।

बहरहाल, लालू इस वक्त बिहार के बहुचर्चित चारा घोटाले के एक मामले में सजा काट रहे हैं। रांची स्थित राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (रिम्स) में उनका इलाज चल रहा है। रिपोर्ट्स में दावा किया वह अवसाद में चले गए। मेडिकल बुलेटिन में भी कुछ ऐसी ही बात सामने आई थी। हालांकि, रिम्स के निदेशक डॉक्टर आरके श्रीवास्तव इस पर बोले थे, “बीमारी और माहौल में परिवर्तन की वजह से कई बार अवसाद की स्थिति संभव हो जाती है।”

मेडिकल बुलेटिन के अनुसार, उनके पैर में घाव हुआ है। सूजन भी है। यही वजह है कि वह ठीक से चल-फिर भी नहीं पा रहे हैं। श्रीवास्तव ने आगे बताया था, “उनका बीपी हाई है। वह थोड़ा अवसाद में हैं। फिलहाल हालत स्थिर है। पर उन्हें शिफ्ट करने की आवश्यकता नहीं है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App