ताज़ा खबर
 

‘अरे सुनो बघेल…’, अरनब गोस्वामी ने लाइव शो में छत्तीसगढ़ सीएम को कहा सोनिया गांधी का चमचा

छत्तीसगढ़ सीएम के लिए अर्णब गोस्वामी का ये कमेंट सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। कुछ लोग अर्णब की चुटकी लेते हुए लिख रहे हैं कि ये जेल जाने के लिए भी मानसिक रूप से फिट नहीं है।

Author Published on: June 29, 2020 10:05 AM
लद्दाख LAC पर लाइव डिबेट के दौरान अर्णब गोस्वामी ने छत्तीसगढ़ सीएम के लिए अमर्यादित बयान दिया है।

लद्दाख LAC पर भारत और चीन के बीच तनाव का माहौल बना हुआ है। दोनों देशों के सैनिकों में टकराव के साथ ही कूटनीतिक स्तर पर भी असंतोष जारी है। सीमा पर तनाव को देखते हुए कांग्रेस पार्टी के सीनियर लीडर अधीर रंजन चौधरी ने ट्वीट कर कहा कि चीन को करारा जवाब दिया जाना चाहिए। सरकार को वही भाषा बोलनी चाहिए जो कि चीन को समझ में आए। कांग्रेस नेता ने कहा कि हमारे हथियार अंडे देने के लिए नहीं हैं। इसी मुद्दे पर रिपब्लिक टीवी के संपादक अर्णब गोस्वामी ने छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल पर अमर्यादित तरीके से कमेंट किया है।

दरअसल अधीर रंजन चौधरी ने अपने ट्वीट में लिखा- ‘हमें उनकी भाषा में ही उन्हें करारा जवाब देना चाहिए। हमारी सेना के पास हथियार अंडे देने के लिए नहीं रखे हैं। चीन को आक्रमकता से जवाब मिलना चाहिए भारतीय सुरक्षा और क्षेत्रीयअखंडता के मद्देनजर चीन लगातार हमारी जमीन पर अवैध तरीके से कब्जा कर रहा है। हम रेड आर्मी के सामने खुद को गिराने का जोखिम नहीं उठा सकते।’

इस पर अर्णब ने अपने चैनल R Bharat पर एक डिबेट शो रखा जिसका मुद्दा था- क्या शहादत के बदले में जवानों को अंडे वाले हथियारों की गाली मिलेगी? इस मुद्दे पर डिबेट मेें एक समय ऐसा आया जब अर्णब गोस्वामी कहने लगे- क्या नाम है छत्तीसगढ़ के उस मुख्यमंत्री का जो सोनिया गांधी की चमचागिरी करते रहता है। पैनल में से किसी ने बताया कि भूपेश बघेल। इस पर अर्णब कहने लगे- ओ सुनो बघेल..एक एफआईआर इस बात पर भी करा देना कि मैनें पूछा कि क्या आप इटली की सेना के बारे में ऐसे बोलते हो।

छत्तीसगढ़ सीएम के लिए अर्णब गोस्वामी का ये कमेंट सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। कुछ लोग अर्णब की चुटकी लेते हुए लिख रहे हैं कि ये जेल जाने के लिए भी मानसिक रूप से फिट नहीं है।

 

बता दें कि अप्रैल माह में पालघर में साधुओं की हत्या के बाद अर्णब ने अपने चैनल पर सोनिया गांधी के लिए अमर्यादित टिप्पणी की थी जिसे लेकर उनके खिलाफ छत्तीसगढ़ के सभी 26 जिलों में 101 एफआईआर दर्ज कराई गई थी। कांग्रेस नेताओं ने अर्णब पर धार्मिक, साम्प्रदायिक भावनाएं भड़काने की शिकायत कर उनकी गिरफ्तारी की मांग की थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 रवीश कुमार ने पूछा- चीन ने क़ब्ज़ा किया है या नहीं, प्रधानमंत्री की पहली प्रतिक्रिया में जवाब मिलता है क्‍या? लोग देने लगे ऐसे जवाब