‘आपके बुजदिल बने रहने से किसी की जान नहीं बच रही..’, रवीश कुमार ने साधा पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना, आने लगे ऐसे कमेंट

Ravish Kumar के इस पोस्ट पर सैकड़ों प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। इनमें बहुत से यूजर्स रवीश कुमार की बातों से सहमति जताते हुए केंद्र सरकार को कटघरे में खड़ा कर रहे हैं तो वहीं कुछ यूजर्स ऐसे भी हैं जो रवीश कुमार को ही ट्रोल कर रहे हैं।

ravish kumar ndtv, ndtv Ravish kumar
Photos: Reuters and Social media

देश में कोरोना महामारी ने विकराल रूप ले लिया है। रोज 3 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो रहे हैं। मरने वालों की तादाद भी हजारों में है। भारत में कोरोना संक्रमण से बिगड़े हालातों पर विदेशी मीडिया में भी खबरें छपी हैं। कई देशों के नामी अखबारों में देश के हालात और सरकार की कमियों को उजागर किया गया है।

अमेरिका के प्रतिष्ठित अखबार द न्यूयॉर्क टाइम्स में छपा है कि 2 लाख से ज्यादा लोग भारत में मर गए लेकिन सरकार सही आंकड़े छिपा रही है। वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार ने इसी खबर का स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है।

रवीश कुमार ने लिखा- विदेशों में भारतीयों की रैलियां करा कर गरीब जनता को बेवकूफ बनाते रहे कि दुनिया में भारत का नाम हो रहा है। इस प्रोपेगैंडा पर करोड़ों रुपये फूंक दिए गए और लोगों में भी भ्रम में ख़ुश फ़हमी पाल ली। अगर इसकी जगह अस्पताल बने होते। उनकी व्यवस्था ठीक की गईं होतीं तो आज दुनिया के अख़बारों में भारत को लेकर ऐसी तस्वीरें न छप रही होतीं।

रवीश कुमार ने आगे लिखा- झूठ का ढोल फट गया है। ये मानें या न मानें। आप मानें या न मानें। जानते तो हैं कि आपके आस-पास क्या हो रहा है। आपके चुप रहने से बुज़दिल बने रहने से किसी की जान नहीं बच रही। किसी को अस्पताल में बेड नहीं मिल जा रहा है।

रवीश कुमार के इस पोस्ट पर सैकड़ों प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। इनमें बहुत से यूजर्स रवीश कुमार की बातों से सहमति जताते हुए केंद्र सरकार को कटघरे में खड़ा कर रहे हैं तो वहीं कुछ यूजर्स ऐसे भी हैं जो रवीश कुमार को ही ट्रोल कर रहे हैं।

राकेश चौधरी नाम के एक यूजर ने लिखा- लोग मर रहे है लेकिन केन्द्र सरकार अपनी झूठी शान के लिए बोल रही है कि हमारे पास पर्याप्त से भी अधिक मात्रा में ऑक्सीजन सिलेण्डर और वेन्टिलेटर है।

सिकंदर यादव नाम के यूजर ने तंज कसते हुए लिखा- पीएम नरेंद्र मोदी ने 18-18 घंटे काम करके देश को उस मुकाम पर पहुंचा दिया है कि विदेशी मीडिया हमसे जल रही है।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

फोटो गैलरी