ताज़ा खबर
 

‘भारत ने तो राम भरोसे छोड़ दिया..’, बेरोजगारी को लेकर पत्रकार रवीश कुमार की इस पोस्ट पर छिड़ी बहस

Ravish Kumar ने लिखा- रोज़गार के प्रश्न को भारत के बेरोज़गार युवाओं ने ही ख़त्म कर दिया। इस युवा-समाज का कुछ नहीं कर सकते हैं। उसे जर्मनी और अमरीका का लाख उदाहरण दे दीजिए वह लौट कर इसी कुएं में तैरने लगेगा। उसे खाद-पानी क नाम पर टीवी की डिबेट और टिक-टाक का भौंडापन भा रहा है।

Author Published on: June 5, 2020 12:55 PM
रवीश कुमार ने भारत में बेरोजगारी को लेकर एक फेसबुक पोस्ट लिखा है जो वायरल हो रहा है। (Photo: Ravish Kumar Fan Club Facebook Page)

कोरोना वायरस से फैले संक्रमण के चलते भारत में पिछले 70 से जयादा दिनों से देशव्यापी लॉकडाउन है। लॉकडाउन के कारण कई रोजगार ठप्प पड़े तो लोगों की नौकरियां भी गईं। सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि जर्मनी और अमेरिका जैसे विकसित देशों में भी लॉकडाउन के ऐसे ही साइड इफेक्ट्स देखने को मिले। बेरोजगारी को लेकर एनडीटीवी के पत्रकार रवीश कुमार ने अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट लिखा है जिसे लेकर सोशल मीडिया यूजर्स में बहस छिड़ गई है।

रवीश कुमार ने इस फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि किस तरह से जर्मनी ने अपने लोगों को बेरोज़गार होने से बचा लिया, अमेरीका ने बेरोज़गार होने दिया तो वहीं भारत ने उन्हें राम भरोसे छोड़ दिया। रवीश कुमार ने लिखा कि कैसे नौकरी खो चुके लोगों को जर्मनी ने एक स्कीम के तहत वेतन का 60 से 87 प्रतिशत तक उनके खाते में देना शुरू कर दिया।

रवीश ने अमेरिका के बारे में लिखा कि वहां पर भी जर्मनी की तरह बेरोजगारों को भत्ते देने की प्रक्रिया चल रही है। रवीश ने आगे लिखा कि लेकिन भारत में बेरोजगारों को राम भरोसे छोड़ दिया है। रवीश की पोस्ट के मुताबिक भारत अकेला देश है जहां 10 करोड़ लोग बेरोज़गार हो गए। इनमें से करीब 2 करोड़ नियमित सैलरी वाले थे। फिर भी भारत में बेरोज़गारी की चर्चा नहीं है।

रवीश ने आगे लिखा- रोज़गार के प्रश्न को भारत के बेरोज़गार युवाओं ने ही ख़त्म कर दिया। इस युवा-समाज का कुछ नहीं कर सकते हैं। उसे जर्मनी और अमरीका का लाख उदाहरण दे दीजिए वह लौट कर इसी कुएं में तैरने लगेगा। उसे खाद-पानी क नाम पर टीवी की डिबेट और टिक-टाक का भौंडापन भा रहा है।

रवीश कुमार के इस पोस्ट पर बहुत से यूजर्स उनकी बात से सहमति जताते हुए सरकार और आज के युवाओं पर प्रश्न उठा रहे हैं तो वहीं बहुत से यूजर्स ऐसे भी हैं जो रवीश कुमार को ट्रोल कर रहे हैं। ऐसे यूजर्स लिख रहे हैं कि अगर देश इतना बुरा लग रहा है तो फिर आप अभी तक यहां क्यों टिके हो। वहीं इस पोस्ट पर यूजर्स में बहस भी छिड़ गई है कि कौन सा राजनीतिक दल आज इन हालातों का जिम्मेदार है। नीचे देखें रवीश कुमार का पोस्ट औऱ पढ़ें वायरल हो रहे इस पोस्ट पर लोगों के कमेंट:

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘ओवरएक्टिंग का 50 रुपए काट इसके’, निसर्ग तूफान की ऐसी टीवी रिपोर्टिंग देख मजे ले रहे लोग
2 ‘सोनू सूद, इनको भी घर पहुंचवा दो प्लीज’, मनोज तिवारी को दिल्ली बीजेपी चीफ पद से हटाए जाने पर यूं मजे ले रहे लोग
3 ‘कोरोना से पहले ये सब देख मर जाएंगे’, लाइव शो में ‘मिसाइल-भाला’ ले भिड़ते पैनलिस्ट को देख बोल रहे लोग