ताज़ा खबर
 

भारत पर पाक की जीत के बाद एक बार फिर राशिद लतीफ ने फिर शेयर किया वीडियो, बोले- कोई किसी का बाप नही है

ऋषि कूपर के ट्वीट और वीरेंद्र सहवाग के बाप बेटे के कमेंट और राशिद लतीफ के वीडियो ने सोशल मीडिया पर बेहद गहमागहमी की महौल बना दिया था।

राशिद लतीफ।

भारत पाकिस्तान क्रिकेट मैच हमेशा से बेहद रोमाचंक रहा है। दोनों टीमें मैदान पर एक-दूसरे को हराने के लिए जी जान लगाते नजर आते हैं। लेकिन इस बार दोनों टीमों के मैदान में आमन-सामने मुकाबले के अलावा सोशल मीडिया पर भी जमकर मैच को लेकर ट्रोल किए गए है। ट्विटर यूजर्स के अलावा वीरेंद्र सहवाग और राशिद लतीफ के वीडियो भी इस दौरान सुर्खियों में बने रहे। वीरेंद्र सहवाग द्वारा बाप बेटे कमेंट ने जहां सबका ध्यान अपनी ओर खीचा तो राशिद तलीफ के इसके जवाब में किए गए विवादस्पद कमेंट ने आग में घी का काम किया। दोनों टीमें दो बार सीरीज में आमने सामने आई जिसमें एक बार जीत भारत को और एक बार पाकिस्तान को नसीब हुई। लेकिन फाइनल में पाकिस्तान की धमाकेदार जीत ने सीरीज का अंत किया तो मैदार के बाहर भी अब अब ये सोशल मीडिया वॉर रुकने की उम्मीद है। पाकिस्तानी क्रिकेटर राशिद लतीफ ने अपने नए वीडियो में जहां बेहद समझदारी से बात करते नजर आ रहे हैं। अपने पहले वीडियो के विपरीत राशिद अपनी टीम की जीत पर बेहद विनम्र नजर आए।

राशिद ने अपनी टीम की तो तारीफ की है भारतीय टीम को भी जमकर प्रशंसा की। इन दिनों पूर्व पाक क्रिकेटर भारत पर कुछ ज्यादा मेहरबान ही नजर आते हैं। इसका मुख्य कारण पाक क्रिकेट बोर्ड की भारत के साथ क्रिकेट सीरीज की मांग है। पाक क्रिकेट बोर्ड इन दिनों बुरे दौर से गुजर रहा है। कई सालों से कोई अंतर्राष्ट्रीय मैच पाकिस्तान में नहीं हुआ जिसका असर पाकिस्तार के क्रिकेट बोर्ड के माली हालतपर नजर आ रह हैं। ऐसे में कई बार पीसीबी की तरफ से भारत पाकिस्तान के बीच क्रिकेट सीरीज की मांग होती रही है। लेकिन भारत हमेशा इस मांग को नकारता रहा है। राशिद लतीफ भी अपने वीडियो में भारत के साथ क्रिकेट सीरीज की मांग करते है और दोनों देशों के बीच क्रिकेट के रिश्ते सामान्य करने पर जोर देते हैं। खैर कारण कोई भी हो राशिद लतीफ का संभली हुई भाषा दोनों देशों के बीच में चल रही ट्रॉल जंग को शांत करने में सहायक हो सकती है।

इससे पहले राशिद तलीफ ने वीडियो शेयर करके भारत के खिलाफ बेहद आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया था

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App