पंजाब सरकार पर फंस गए आप, नहीं दे पा रहे हैं जवाब – राकेश टिकैत से बोले एंकर, किसान नेता के तरफ से आई ऐसी प्रतिक्रिया

एंकर ने कहा कि किसान कानून पर तो आप बोलते नहीं हैं अब प्रस्ताव पर बात कर रहे हैं। आप कांग्रेस से मिले हुए हैं किसान की तरफ नहीं हैं?

Farmer Law, Farmer
किसान नेता राकेश टिकैत (फोटो सोर्स – पीटीआई)

केंद्र सरकार द्वारा पारित तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसान पिछले कई महीनों से धरने पर बैठा हुआ है। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत का कहना है कि जब तक सरकार या काले कानून वापस नहीं ले लेती तब तक हम घर वापस नहीं जाएंगे। इन्हीं मुद्दों पर बात करते हुए एक न्यूज़ चैनल पर एंकर ने उनसे कहा कि पंजाब सरकार पर फंस गए हैं आप, जवाब नहीं दे पा रहे हैं। इस सवाल पर किसान नेता ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि वहां कुछ होगा तो हम जाएंगे।

टाइम्स नाउ नवभारत न्यूज़ चैनल के एक कार्यक्रम में एंकर सुशांत सिन्हा ने उनसे पंजाब सरकार द्वारा बनाए गए कानून का जिक्र करते हुए कहा कि टिकैत साहब, आप फंस गए। उन्होंने हंसते हुए कहा कि पंजाब पर नहीं बोल पा रहे हैं आप..। इसका जवाब देते हुए राकेश टिकैत ने कहा कि वहां पर कुछ गलत होगा तो हम जरूर जाएंगे। उनके जवाब पर एंकर ने हुए कहा कि, ‘ अरे होगा सर…. वहां पर कानून है.. अगर कॉन्ट्रैक्ट पूरा नहीं किया तो किसान जेल जाएगा।’

राकेश टिकैत ने एंकर के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि जब जेल जाएगा तब देख लेंगे। राकेश टिकैत के जवाब पर एंकर ने तेजी से हंसते हुए कहा कि अरे तो फिर ये तीनों कानून भी आने दीजिए… जब जमीन छीन ली जाएगी तब बोलिएगा। इसके जवाब में राकेश टिकैत कहते हैं कि जमीन तो छीनी ही जा रही हैं। एंकर ने कहा कि अभी तो कानून आया भी नहीं और आप ऐसे कह रहे हैं।

किसान नेता ने एंकर से कहा कि मध्यप्रदेश में बहुत सारी मंडी बंद हो गई है। जब उनसे यह सवाल पूछा गया कि कितनी मंडी बंद हुई है, जरा आप बताइए तो? राकेश टिकैत ने कहा कि प्रस्ताव आ चुके हैं। उनकी इस बात पर एंकर ने कहा कि किसान कानून पर तो आप बोलते नहीं हैं अब प्रस्ताव पर बात कर रहे हैं। आप कांग्रेस से मिले हुए हैं किसान की तरफ नहीं हैं?

एंकर के इस सवाल के जवाब में राकेश टिकैत कहते हैं कि मैं किसी से नहीं मिला हूं। आप सब मिलकर एक प्रोपेगेंडा चला रहे हैं। न्यूज़ चैनल के इस वीडियो पर तमाम लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया भी दी है। एक ट्विटर यूजर लिखते हैं कि राकेश टिकैत की पूरी पोल पट्टी ही खोल कर रख दी। मुझे शक है कि आगे से आपको किसान नेताओं का इंटरव्यू मिलेगा भी या नहीं। @singh1657 ट्विटर अकाउंट से लिखा गया कि राकेश टिकैत एक्सपोज हो गए, इनका सिर्फ एक ही एजेंडा है मोदी सरकार का विरोध करना। इनका किसानों से कोई लेना-देना नहीं, जब तक फंडिंग मिलती रहेगी तब तक किसानों को बेवकूफ बनाते रहेंगे।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट