scorecardresearch

योगी के मंत्री पर सजा की फाइल लेकर भागने का लगा आरोप तो अखिलेश यादव ने कसा तंज, यूजर्स ने दिए ऐसे जवाब

अखिलेश यादव ने खबर को शेयर कर लिखा है कि ‘भाजपा के मंत्री के साथ-साथ फरार आईपीएस को भी खोज लीजिएगा।’

योगी के मंत्री पर सजा की फाइल लेकर भागने का लगा आरोप तो अखिलेश यादव ने कसा तंज, यूजर्स ने दिए ऐसे जवाब
यूपी के कैबिनेट मंत्री राकेश सचान सीएम योगी के साथ (फोटो सोर्स: Express/फाइल)।

उत्तर प्रदेश सरकार में MSME मंत्री राकेश सचान विवादों में हैं। उन पर कोर्ट से सजा की फाइल लेकर भागने का आरोप लगाया गया है। हालांकि मंत्री खुद पर लगे आरोपों को बेबुनियाद बता रहे हैं। अब इस मामले की जांच हो रही है हालांकि इसी बीच अखिलेश यादव ने तंज कसा है।

अखिलेश यादव ने खबर को शेयर कर लिखा है कि ‘भाजपा के मंत्री के साथ-साथ फरार आईपीएस को भी खोज लीजिएगा।’ वहीं समाजवादी पार्टी के ट्विटर हैंडल ने लिखा गया कि ‘सरकारी गिट्टी चोरी के मामले में आज भाजपा सरकार के कैबिनेट मंत्री राकेश सचान को कोर्ट में दोषी करार दिया और सजा सुनाई, सजा सुनते ही मंत्री कोर्ट से फरार हो गए। अब योगी जी बताएं कि अपने इस सरकारी गिट्टीचोर फरार मंत्री के घर/द्वार/प्रतिष्ठान पर बुलडोजर कब चलाएंगे? बताएं योगीजी!’ 

लोगों की प्रतिक्रियाएं 

अखिलेश यादव के ट्वीट पर हर्ष द्विवेदी नाम के यूजर ने लिखा कि ‘अपनी गलती को न देख कर/सुधार कर, आप दूसरों की गलतियों को अधिक देख रहे हैं। राजनीति में आपके पतन का यही महत्वपूर्ण कारण होगा!’ अंशुमान सिंह नाम के यूजर ने लिखा कि ‘एक से एक चुन के नगीने मंत्री बनाए हैं बीजेपी ने।’ दीपक सिंह नाम के यूजर ने लिखा कि ‘शुक्र है कि मुख्यमंत्री जी ने अपने मुकदमे वापस करा लिए थे, नहीं तो आज प्रदेश को बडी शर्मिंदगी झेलनी पड़ती!’

सपा ने कसा तंज

आदित्य सिंह नाम के यूजर ने लिखा कि ‘ये तो कुछ भी नहीं हैं अध्यक्ष जी, आपकी सरकार में 3 बार के विधायक रहे रामेश्वर सिंह यादव ने तो थाने से पूरी चार्जशीट ही गायब करवा दी थी।’ शौर्य परासर नाम के यूजर ने लिखा कि ‘जब तक देश पूरी तरह बर्बाद नहीं हो जाएगा तब तक भक्तों को ‘मोदी जी’ के हर बात में ‘राष्ट्रभक्ति’ नजर आती रहेगी!’

बता दें कि राकेश सचान को अवैध असलहा के एक पुराने मामले में शनिवार को दोषी करार दिया गया लेकिन अपर मुख्य महानगर मजिस्ट्रेट कोर्ट उन्हें सजा सुनाती, आरोप है कि उससे पहले ही मंत्री अपने वकील की मदद से आदेश की मूल प्रति लेकर फरार हो गए। अब कोर्ट के रीडर की तरफ से मंत्री पर एफआईआर के लिए तहरीर दी गई है।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.