ताज़ा खबर
 

लाइव टीवी शो में नंदिता सुंदर को बुलाने पर पत्रकार राजदीप सरदेसाई को मिली धमकी

शिकायत करने वालों के अनुसार नंदिनी सुंदर माओवादियों और नकस्लियों की पक्षधर हैं। ऐसे शख्स से टीवी पर बात करना शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों की शहादत को कलंकित करना है।

इंडिया टुडे को लाइव शो में नंदिता सुंदर और राजदीप सरदेसाई।(तस्वीर वीडियो से ली गई है)

जाने माने पत्रकार राजदीप सरदेसाई को अपने टीवी शो में एक मेहमान को बुलाने के चलते कानूनी कार्रवाई करने की धमकी मिली है। दरअसल एक अंग्रेजी न्यूज चैनल पर सुकमा नक्सली हमले पर चर्चा के लिए दिल्ली विश्वविद्यालय की प्रोफेसर नंदिनी सुंदर को बुलाया गया था। शो की एंकरिंग राजदीप सरदेसाई कर रहे थे। शिकायत करने वाले संगठन के अनुसार नंदिनी सुंदर नक्सलवाद और माओवाद की पैरोकार हैं और ऐसे शख्स को शो पर नहीं बुलाना चाहिए। आर डब्ल्यू लूनी नाम के इस संगठन ने चैनल को राजदीप के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की धमकी देते हुए कहा है कि अगर वो ऐसा नहीं करेंगे तो उनके खिलाफ पुलिस कंप्लेंट भी दर्ज कराई जाएगी।

आपको बता दें कि 24 अप्रैल को सुकमा में नक्सलियों के हमले में 25 सीआरपीएफ जवानों की मौत हो गई थी। देश में नक्सलियों द्वारा इतनी बड़ी घटना को अंजाम देने को लेकर पूरे देश में नक्सलवाद पर एक बहस छिड़ गई। इसी नक्सलवाद पर बहस के लिए इंडिया टुडे चैनल ने अपने शो में नंदिनी सुंदर को आमंत्रित किया था। शो की एंकरिंग राजदीप सरदेसाई कर रहे थे। इस शो के टेलीकास्ट होने के बाद आर आर डब्ल्यू लूनी के कन्वेनर विनय जोशी ने पूरे संस्थान को लपेटे में लेते हुए एक ईमेल किया जिसमें लिखा कि राजदीप सरदेसाई ने जैसे मेहमान को अपने शो में बुलाया उसके लिए उनपर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।


शिकायत करने वालों के अनुसार नंदिनी सुंदर माओवादियों और नकस्लियों की पक्षधर हैं। ऐसे शख्स से टीवी पर बात करना शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों की शहादत को कलंकित करना है। राजदीप ने अपने शो में एसे गेस्ट को बुलाकर बेशर्मी का परिचय दिया है। उनपर तुरंत कार्रवाई हो। मशहूर फिल्म निर्देशक विवेक अग्निहोत्री ने शिकायत करने वाले संगठन के लेटर को ट्वीट कर राजदीप को बताया कि देखिए आपके खिलाफ शिकायत दर्ज हो गई है।

राजदीप सरदेसाई ने विवेक के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा कि मैंने कुछ गलत नहीं किया। अब आर डब्ल्यू लूनी तय करेगा कि मेरे शो पर कौन गेस्ट होगा कौन नहीं!

छत्तीसगढ़: नक्सली हमले में 25 CRPF जवान शहीद, जवानों को न मिले मदद इसलिए रेडियो सेट्स ले गए थे नक्सली

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App