ताज़ा खबर
 

पत्रकार राजदीप सरदेसाई का दावा- अगले चुनाव से पहले बड़ा टीवी चैनल नेटवर्क खरीदने की फिराक में है सत्ताधारी सांसद

विपक्षी पार्टियां लगातार बीजेपी और मोदी सरकार पर मीडिया को प्रभावित करने का आरोप लगाती रही है। उनका आरोप है कि मीडिया का एक धड़ा बीजेपी के कहने पर विपक्षी पार्टियों के खिलाफ खबर चला रहा है।

पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने बीजेपी सांसद के चैनल खरीदने का किया दावा। (FILE PHOTO)

सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाले पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने नेशनल डेमोक्रेटिक फ्रंट (NDA) के सांसद को निशाने पर लिया है। सरदेसाई ने अपने ट्वीट में लिखा- मीडिया में रुचि रखने वाले एनडीए के सांसद एक बड़े रीजनल टीवी नेटवर्क को खरीदने की तैयारी कर रहे हैं। उन्होंने आगे लिखा कि ऐसा करने के पीछे उद्देश्य स्पष्ट है- अगले चुनावों से पहले कई चैनलों को संरेखित करना। राजदीप सरदेसाई के इस ट्वीट को पूर्व केंद्रीय मंत्री लालू यादव ने रि-ट्वीट किया है। वहीं, राजदीप के इस ट्वीट को लेकर ट्टविटर यूजर्स ने उन पर निशाना भी साधा है।

शत्रुघ्न नाम के एक यूजर ने राजदीप सरदेसाई पर हमला करते हुए लिखा- “कांग्रेस को लेकर क्या कहना है जिसने एनडीटीवी, हिंदुस्तान टाइम्स, आजतक, द हिंदू, द वायर, क्विंट और ऑल्टन्यूज जैसे संस्थाओं में पकड़ बना रखी है।” वहीं, अभय कुलकर्णी नाम के शख्स ने लिखा- “साम, दाम, दंड, भेद में कांग्रेस को कौन मात दे सकता है? अगर चैनल राजनीति में उंगली करते हैं तो एक राजनेता चैनल क्यों नहीं चलाता।” संजय बरुआ नाम के एक शख्स ने लिखा- “अगर चुनाव मीडिया हाउसेज खरीद के जीते जाते हैं तो कांग्रेस ने इतने सालों से घोटाले करके जो पैसे एकत्र किए, उससे यही काम क्यों नहीं करती।”

विपक्षी पार्टियां लगातार बीजेपी और मोदी सरकार पर मीडिया को प्रभावित करने का आरोप लगाती रही है। उनका आरोप है कि मीडिया का एक धड़ा बीजेपी के कहने पर विपक्षी पार्टियों के खिलाफ खबर चला रहा है। हाल ही में आरजेडी सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के परिवार के सुरक्षा एजेंसियों के घेरे में आने के बाद भी इस तरह के आरोप लगाए थे। लालू यादव ने मीडिया पर निशाना साधते हुए पत्रकारिता को गुंडई में तब्दील होने का आरोप लगाया था। लालू ने ट्वीट करके कहा था कि लालू मीडिया की वजह से नहीं, मीडिया लालू की वजह से है।उन्हे मेरा शुक्रगुज़ार होना चाहिए जो बेरोज़गारी के दौर में उन्हें रोज़ी-रोटी दे रखी है।

बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी हिंदी में स्वच्छ भारत भी नहीं लिख पाईं

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App