ताज़ा खबर
 

‘मोदीजी जल्‍दी कीजिए, लगता है राष्‍ट्रपति ट्रंप को एक और झप्‍पी चाहिए’ राहुल गांधी ने कसा तंज

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साध रहे हैं।

Author नई दिल्ली | October 15, 2017 8:23 PM
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी। (Photo Source: Indian Express)

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा पाकिस्तान की सरहाना किए जाने के बाद रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विदेश नीति को निशाने पर लिया। हक्कानी आतंकी नेटवर्क की गिरफ्त से एक अमेरिकी-कनाडाई परिवार को सुरक्षित बचाने पर ट्रंप ने पाकिस्तान की सराहना की थी। राहुल ने ट्वीट कर मोदी पर तंज कसा, “मोदी जी जल्दी कीजिए, ऐसा लग रहा है कि राष्ट्रपति ट्रंप एक बार फिर गले लगना चाहते हैं।” ट्वीट के साथ, कांग्रेस नेता ने ट्रंप के नवीनतन बयान का एक चित्र पोस्ट किया जिसमें लिखा हुआ था कि ‘अमेरिका, पाकिस्तान और उसके नेताओं के साथ बेहतर रिश्ता बनाने के लिए शुरुआत करना चाहता है। कई मोचोर्ं पर साथ देने के लिए धन्यवाद इस्लामाबाद।’

ट्रंप ने इससे पहले पाकिस्तान पर जमकर हमला बोला था और आरोप लगाया था कि ‘जिन आंतकियों से हम लड़ रहे हैं, पाकिस्तान उन्हें पनाह दे रहा है।’ट्रंप द्वारा पाकिस्तान की आलोचना जून माह में मोदी के अमेरिका दौरे के बाद आई थी। उस वक्त प्रधानमंत्री मोदी और ट्रंप गले मिले थे और ट्रंप ने मोदी को ‘सच्चा दोस्त’ बताया था।

राहुल गांधी के इस ट्वीट पर कई लोग उनका बहुत मजाक उड़ा रहे हैं। इस ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए एक ट्विटर ने लिखा पप्पू जी डिप्लोमसी भी चीज होती है जो आपके दीमाग में नहीं आनी, आप अपने पोकेमॉन के साथ खेलो बेटा। एक ने लिखा आओ दो मिनट मौन रखें उन जिहादियों के लिए जिनकी शक्ल केआरके और दिमाग पप्पू जैसा है लेकिन सपने 2019 में मोदी जी को हराने के देखते हैं। एक ने लिखा सोनिया गांधी कभी भी धनतेरस पर बर्तन नहीं खरीदेंगी क्योंकि उनके पास पहले से एक ढक्कन और कई सारे चमचे हैं। इस तरह कई ट्विटर यूजर्स ने राहुल गांधी के इस पोस्ट पर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं दीं।

आपको बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप ने अपने एक बयान में कहा था कि पाकिस्तान ने सालों से अमेरिका का जबरदस्त फायदा उठाया है लेकिन अब पाकिस्तान के साथ उनके देश के वास्तविक संबंधों की शुरूआत है। हक्कानी आतंकवादी नेटवर्क के कब्जे से पांच साल बाद अमेरिकी कनाडाई परिवार की सुरक्षित रिहाई से अमेरिका ने आशा जतायी है कि दोनो देशों के बीच संबंधों में सकारात्मक बदलाव आएगा।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App