ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी ने BJP-RSS पर लगाया लोगों को डराने का आरोप, यूजर्स ने ली चुटकी

राहुल गांधी के भाषण के एक अंश 'जहाँ भी ये जाते हैं, ये डर पैदा करते हैं और जहाँ भी हम जाते हैं हम डर को मिटाने की कोशिश करते हैं' को ट्विटर पर पोस्‍ट किया गया।

कांग्रेस उपाध्‍यक्ष ने नई दिल्‍ली में आयोजित ‘जनवेदना सम्‍मेलन’ में केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया। (Source: Twitter/OfficeOfRG)

कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी बुधवार को केंद्र सरकार पर जमकर बरसे। नई दिल्‍ली के तालकटोरा स्‍टेडियम में कांग्रेस द्वारा आयोजित ‘जनवेदना सम्‍मेलन’ में उन्‍होंने भाजपा और आरएसएस पर लोगों में ‘भय’ का माहौल पैदा करने का आरोप लगाया। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस इनकी विचारधारा को परास्त कर देगी और भाजपा को सत्ता से उखाड़ फेंकेगी। इसे दो विचारधाराओं के बीच का संघर्ष करार देते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि उनकी पार्टी का दर्शन लोगों को भयमुक्त होने को कहता है, जबकि भाजपा का दर्शन लोगों में ‘भय’ और ‘डर’ पैदा करने वाला है। राहुल ने कहा, ‘यह दो दर्शन के बीच की लड़ाई है। यह कोई नई लड़ाई नहीं है। यह लड़ाई हजारों वर्षो पुरानी है। कांग्रेस पार्टी का दर्शन कहता है कि भयभीत नहीं हों। दूसरा दर्शन कहता है कि भयभीत करो, डराओ।’ राहुल ने कहा, ‘आप भाजपा की नीतियों को देखें। पूरा मकसद देश के लोगों को डराने का है। आतंकवाद, माओवाद, नोटबंदी से डराओ, मीडिया को डराओ। पिछले दो..तीन महीने में पूरे देश में ऐसा डर फैल गया है।’

राहुल गांधी ने कहा, ‘ ये लोग (भाजपा और आरएसएस) सोचते हैं कि वे लोगों के बीच भय और घृणा फैला कर शासन कर सकते हैं। कांग्रेस पार्टी इन्हें परास्त करेगी और सत्ता से हटा देगी। हम उनसे (भाजपा और आरएसएस) से घृणा नहीं करते हैं लेकिन हम उनकी विचारधारा को परास्त कर देंगे।’

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि ‘कांग्रेस पार्टी भय को समाप्त करने के लिए खड़ी होगी। भारत एक मजबूत देश है और यहां के लोगों को दुनिया में किसी से भी डरने की जरूरत नहीं है। उनकी राजनीति और ढांचे का आधार भय को गुस्से में बदलने का है। यह पिछले ढाई वर्षो में नहीं हो रहा है। लेकिन वे (भाजपा और आरएसएस) ऐसा करते रहे हैं। यह विचारधारा ऐसा ही करती है।’

राहुल गांधी के भाषण के एक अंश ‘जहाँ भी ये जाते हैं, ये डर पैदा करते हैं और जहाँ भी हम जाते हैं हम डर को मिटाने की कोशिश करते हैं’ को ट्विटर पर पोस्‍ट किया गया। मगर यूजर्स राहुल की राय से असहमत नजर आए।, उन्‍होंने उनके बयान का मजाक बनाना शुरू कर दिया। उन्‍होंने क्‍या कहा, देखिए: