ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी की कैलास यात्रा पर उठ रहे सवाल, बीजेपी सांसद बोले- सही सलामत वापस नहीं आएंगे

प्रीति गांधी ने अपने ट्वीट में राहुल गांधी को संबोधित करते हुए लिखा कि क्या आप इंटरनेट से तस्वीरें डाउनलोड कर ट्वीट कर रहे हैं? क्या आप सच में मानसरोवर में हैं या फिर कहीं और?

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की कैलास मानसरोवर यात्रा पर सुब्रमण्यन स्वामी ने साधा निशाना। (file pic)

भाजपा सांसद सुब्रमण्यन स्वामी राहुल गांधी के खिलाफ दिए अपने बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहते हैं। अब एक बार फिर सुब्रमण्यन स्वामी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा है। बता दें कि राहुल गांधी इन दिनों कैलास मानसरोवर यात्रा पर गए हुए हैं। वहां से राहुल गांधी कैलास मानसरोवर और उसके आस-पास फैली प्राकृतिक खूबसूरती की तस्वीरें शेयर कर रहे हैं। अब उन तस्वीरों को लेकर भी राहुल गांधी को ट्रोल किया जा रहा है। दरअसल लोग राहुल गांधी पर इंटरनेट से तस्वीरें डाउनलोड कर शेयर करने का आरोप लगा रहे हैं। भाजपा के महिला मोर्चा की नेशनल सोशल मीडिया इंचार्ज प्रीति गांधी ने भी एक ट्वीट कर राहुल गांधी को ट्रोल किया।

प्रीति गांधी ने अपने ट्वीट में राहुल गांधी को संबोधित करते हुए लिखा कि क्या आप इंटरनेट से तस्वीरें डाउनलोड कर ट्वीट कर रहे हैं? क्या आप सच में मानसरोवर में हैं या फिर कहीं और? प्रीति गांधी के इस ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने भी ट्वीट किया और लिखा कि “राक्षस तल वो सरोवर है, जहां रावण ने भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए तपस्या की थी। यदि बुद्धू ने गलती से इसका पानी पी लिया तो वह स्वस्थ वापस नहीं आएगा।” भाजपा सांसद गिरिराज सिंह ने भी एक कैलास मानसरोवर यात्रा पर गए राहुल गांधी की एक तस्वीर शेयर करते हुए ट्वीट किया है। गिरिराज सिंह ने भी राहुल गांधी की कैलास मानसरोवर यात्रा पर सवाल खड़े किए हैं। गिरिराज सिंह ने राहुल गांधी की एक तस्वीर शेयर कर लिखा है कि “ये तो फोटोशॉप है….छड़ी की परछाईं गायब है।”

बता दें कि राहुल गांधी ने हाल ही में राक्षस तल की तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट की थी और इसकी खूबसूरती की काफी प्रशंसा की थी। इसी तरह अपने एक अन्य ट्वीट में राहुल गांधी ने मानसरोवर झील की भी तस्वीर शेयर की थी। इस तस्वीर के साथ राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा था कि मानसरोवर झील का पानी बेहद शांत, सौम्य और साफ है। ये सभी को देती है और कुछ नहीं लेती। कोई भी यहां का पानी पी सकता है, यहां कोई नफरत नहीं है। यही वजह है कि हम भारत में इस पानी की पूजा करते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App