राघव चड्ढा को मोस्ट स्टायलिश नेता का तमगा, केजरीवाल बोले- हमारे पास सबसे ईमानदार, कर्मठ नेता, और अब… आए ऐसे कमेंट्स

आरके जैन ने तंज कसते हुए कहा- सेल्फ सर्टिफिकेशन… ईमानदार: केजरीवाल, देशभक्त: ताहिर हुसैन, शरीफ: सोमनाथ भारती, चरित्रवान: संदीप कुमार, जितेंद्र तोमर और स्टाईलिश राघव चड्ढा।

Raghav Chadha, Most stylish leader, Arvind Kejriwal, Delhi CM, Most honest, hardworking leader,
अरविंद केजरीवाल। फाइल फोटो।

दिल्ली के मंत्री इंडिया फैशन अवार्ड 2021 में मोस्ट स्टायलिश नेता का तमगा मिला तो सीएम अरविंद केजरीवाल खुशी से गदगद हो गए। उन्होंने ट्विटर पर लिखा- हमारे पास सबसे ईमानदार, कर्मठ नेता पहले से ही थे। अब स्टायलिश भी हैं। हालांकि, सोशल मीडिया पर लोगों को उनका रवैया रास नहीं आया। उन्होंने केजरीवाल को जमकर खरीखोटी सुनाईं।

राजीव ने लिखा- ये जनता का काम क्या करेगा? सिर्फ फैशनेबल बने रहना चाहता है। अभि के हैंडल से लिखा गया- बहुत कम लोग जानते है कि AAP वाले चड्ढा जी ही पृथ्वी को धक्का मारते है जिसकी वजह से वो सूर्य के चारो ओर घूम पाती है । AAP ऐसे ही प्रयास करते रहिए ताकि ब्रम्हांडीय संतुलन बना रहे। एक और ने तंज कसते हुए कहा कि अबे मफलर पहन लें तेरे से ये अवार्ड फिर कोई नही छीन सकता। संतोष ने सवाल किया कि ये बात आपको कहने की ज़रूरत क्यों पड़ रही है?

इंडिया फर्स्ट के हैंडल से पूछा गया- ये सब हो गया पर वो चार दिन का कोयला खत्म क्यों नही हो रहा है। आरके जैन ने तंज कसते हुए कहा- सेल्फ सर्टिफिकेशन… ईमानदार: केजरीवाल, देशभक्त: ताहिर हुसैन, शरीफ: सोमनाथ भारती, चरित्रवान: संदीप कुमार, जितेंद्र तोमर और स्टाईलिश राघव चड्ढा। राजेश गुप्ता ने लिखा- अरविंद केजरीवाल जी अपने मुंह से ये बोल कर सारे किए कराए पर पानी फेर दिए आपने।

केके भाटिया ने कहा- यह क्या मजाक हो रहा है? कौन दे रहा है ऐसे अवार्ड? इनका कुछ मतलब भी है? यह सब पब्लिसिटी स्टंट के सिवा और कुछ नहीं है। और मुख्यमंत्री जी ऐसी चीजों को शह दे रहें हैं। शर्म आनी चाहिए। संजय चौहान ने लिखा- अब इस बात को बताने के लिए पूरी दिल्ली पंजाब उत्तराखंड में हजारों करोड़ विज्ञापन पर पैसा मत फूंक देना। ये दिल्ली की जनता का पैसा है। एक एक पैसा कैसे कमाते हैं दिल्ली वाले केजरीवाल जी आप नहीं जानते। आपको तो बस अपना थोबड़ा चमकाना है। इसी राघव चड्ढा की विधानसभा में गंदा पानी आता है।

चौधरी साहब के हैंडल से ट्वीट किया गया- आप भी क्या कम है स्टाइल में, भले मफलर भूल गए हैं, स्याही, थप्पड़, जूता तो अभी भी मिल ही रह है। प्रमोद ने तंज कसा- वाह बनने आये थे आम आदमी और बन गए स्टाइलिश। एक ने लिखा- काश कुछ टाइम पब्लिक के लिए भी निकाल लेते साहब। बस ये ही देखना बाकी रहे गया दिल्ली की पब्लिक को।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट