scorecardresearch

पीटी उषा ने हिंदी में ली राज्यसभा की सदयस्ता तो सदन में बजी तालियां, उपराष्ट्रपति ने कहा कुछ ऐसा कि हंस पड़े सभी सांसद

पीटी उषा ने हिंदी में शपथ ली। शपथ ग्रहण के बाद उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कुछ ऐसा कहा कि पूरा सदन ठहाका मार कर हंस पड़ा।

पीटी उषा ने हिंदी में ली राज्यसभा की सदयस्ता तो सदन में बजी तालियां, उपराष्ट्रपति ने कहा कुछ ऐसा कि हंस पड़े सभी सांसद
पीटी उषा ने हिंदी में लिया शपथ (फोटो सोर्स; स्क्रीनग्रैब/ संसद टीवी)

राज्यसभा के लिए मनोनीत और पूर्व ओलंपिक ट्रैक एंड फील्ड एथलीट पीटी उषा ने 20 जुलाई को राज्यसभा में सांसद पद शपथ ली। पीटी उषा को राज्यसभा अध्यक्ष एवं उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने शपथ दिलवाई। खास बात यह रही कि पीटी उषा ने हिंदी में शपथ ली। उनके शपथ के बाद उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कुछ ऐसा कहा कि पूरा सदन ठहाका मार कर हंस पड़ा।

राज्यसभा में कुछ तरह हुआ स्वागत

पीटी उषा का नाम जब राज्यसभा में शपथ ग्रहण के लिए पुकारा गया तो सभी ने मेज थपथपाकर उनका स्वागत किया है। इसके बाद पीटी उषा ने हिंदी में शपथ लेने की जब शुरुआत की तो कई लोगों ने तालियां बजाईं। इतना ही नहीं, शपथ लेने के बाद जब पीटी उषा ने वहां मौजूद सदस्यों का अभिवादन किया तो इसी बीच वेंकैया नायडू ने एक टिप्पणी की। 

वेंकैया नायडू की टिप्पणी पर हंस पड़े सांसद

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा कि ‘श्रद्धापूर्वक निर्वहन करूंगी, मालूम हैं ना सबको?’ उपराष्ट्रपति के इस टिप्पणी के बाद सदन में मौजूद सभी सदस्य हंस पड़े। इसके बाद पीटी उषा ने उपराष्ट्रपति का अभिवादन करते हुए अपनी सीट की तरफ चली गईं। सोशल मीडिया पर यह वीडियो वायरल हो रहा है और लोग अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। 

लोगों की प्रतिक्रियाएं

पत्रकार धर्मेंद्र सिंह ने लिखा कि ‘खेलेगा भारत, खिलेगा भारत, बधाई हो। केरल में रहते हुए भी जबर्दस्त हिंदी, देश का नाम रोशन करने वाले को मिल रहा है सम्मान।’ राज्यसभा सासंद हरनाथ सिंह यादव ने लिखा कि ‘देश की शान पी टी ऊषा जी द्वारा राज्य सभा में हिंदी भाषा में शपथ लेते ही पूरा सदन मेजों की थपथपाहट से रोमांचित हो गया।’

पत्रकार हर्षवर्धन त्रिपाठी ने लिखा कि ‘हम लोगों के समय में पीटी ऊषा उड़नपरी तो थीं हीं। पीटी ऊषा का पूरा नाम सही-सही बताना भी सामान्य ज्ञान में तेज़ बुद्धि का प्रतीक था। अब उड़नपरी हमारी सांसद हैं, उन्होंने शपथ ले ली है। भाषाई विभाजन करने वालों से भाषाई एकता करने वाले शक्तिशाली हैं।’ पत्रकार अनंत विजय ने लिखा कि ‘आज मेरा विश्वास और दृढ़ हुआ कि हिंदी की उन्नति का रास्ता भारतीय भाषाओं के परिसर से होकर जाता है।’

देखिए पीटी उषा का वीडियो

अतुल सेठ ने लिखा कि ‘आदरणीय पीटी ऊषा जी आप सवा सौ करोड़ देशवासियों के लिए प्रेरणास्रोत हैं। आज जहां हिंदी का विरोध हो रहा है। हिंदी भाषी लोग भी हिंदी से दूर भाग रहे हैं, वहीं आपने हिंदी में शपथ लेकर हमारा सीना गर्व से और चौड़ा कर दिया।’ विजय मोहन दास नाम के यूजर ने लिखा कि “श्रद्धापूर्वक निर्वहन करूंगी मालूम है ना सबको” को वीडियो के अंत मे वेंकैया नायडू ने बोला उसका मतलब आप समझ गए होंगे, उम्मीद करता हूं। जिसपर सभा के लोगों ने ठहाका लगाया।’

कौन हैं पीटी उषा?

 बता दें कि पीटी उषा का पूरा नाम पिलाउल्लाकांडी थेक्केपरांबिल उषा है. वह केरल की रहने वाली हैं. पीटी उषा भारत की सबसे प्रतिष्ठित खिलाड़ियों में से एक हैं, राज्यसभा सांसद के रूप में शपथ लेने के बाद पीटी उषा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से संसद में मुलाकात भी की। 

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट